दिल्ली में गणतंत्र दिवस समारोह के दौरान घने कोहरे के कारण दृश्यता प्रभावित होने के आसार

नई दिल्ली । राष्ट्रीय राजधानी में 75वें गणतंत्र दिवस समारोह के दौरान मध्यम से घना कोहरा दृश्यता को प्रभावित कर सकता है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी। भारत मौसम विभाग (आईएमडी) ने कहा कि कोहरे के कारण शुक्रवार को सुबह साढ़े आठ बजे तक लोग केवल 400 मीटर तक ही देख पाएंगे। इसके बाद सुबह साढ़े बजे तक दृश्यता का स्तर सुधरकर 1,500 मीटर तक पहुंच सकता है।

मैदानी इलाकों में कोहरे की धुंधली परत बनी रहेंगी

मौसम कार्यालय ने जानकारी दी कि शुक्रवार को न्यूनतम तापमान पांच से सात डिग्री सेल्सियस के बीच रहने की संभावना है। भारत मौसम विभाग ने कहा कि सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ मौसम प्रणालियों की अनुपस्थिति 25 दिसंबर से क्षेत्र के मैदानी इलाकों में कोहरे की धुंधली परत के बने रहने के प्राथमिक कारणों में से एक है।

सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ मौसम प्रणालियों की अनुपस्थिति भूमध्यसागरीय क्षेत्र में उत्पन्न होती है और उत्तर पश्चिम भारत में बेमौसम वर्षा लाती है। आम तौर पर, इन महीनों के दौरान पांच से सात पश्चिमी विक्षोभ इस क्षेत्र को प्रभावित करते हैं। इसमें कहा गया है कि इस क्षेत्र में इस सर्दी में अब तक कोई मजबूत पश्चिमी विक्षोभ नहीं देखा गया है।

अब तक दो पश्चिमी विक्षोभ ने देश को प्रभावित किया

अब तक दो पश्चिमी विक्षोभ ने देश को प्रभावित किया है – एक दिसंबर में और दूसरा जनवरी में – लेकिन उनका प्रभाव गुजरात, उत्तरी महाराष्ट्र, पूर्वी राजस्थान और मध्य प्रदेश तक ही सीमित रहा। कोहरे के निर्माण के लिए तीन स्थितियों की आवश्यकता होती है: कमजोर निम्न-स्तरीय हवाएँ, नमी और रात भर की ठंडक। तेज़ हवाओं और वर्षा की विशेषता वाले मजबूत पश्चिमी विक्षोभ इन स्थितियों को बाधित करते हैं।

follow hindusthan samvad on :