कोरोना काल में मनरेगा अंतर्गत हुए तालाब का निर्माण कार्य से 5862 मानव दिवस रोजगार हुआ सृजित
सिवनी, 12नंवबर। प्रदेश शासन द्वारा ग्रामों में निवास करने वाले लोगों को सभी जरूरी सुविधाएं उपलब्ध कराने की दिशा में विभिन्न जन कल्याणकारी योजना बनाई गई हैं, जिनकों संबंधित विभागों द्वारा जमीनीस्तर पर अमल में लाते हुए ग्रामों में सतत विकास कार्य किए जा रहे हैं।

  ऐसा ही सिवनी जिले के घंसौर विकासखंड का ग्राम रामपुरी है, जहां महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना अंतर्गत निस्तारी तालाब निर्माण कार्य हुआ। ग्राम पंचायत रमपुरी क्षेत्र में पानी के संग्रहण हेतु अन्य कोई संरचना नहीं होने के कारण क्षेत्र में पानी का अभाव होने के चलते ग्रामीणों के निस्तार हेतु जल, पेयजल, मवेशियों के लिए पानी की विकट समस्या बनी हुई थी। ग्रामीणों की जल समस्या को करने हेतु जिला प्रशासन द्वारा कोरोना काल में मनरेगा अंतर्गत ग्रामीणों को रोजगार मुहैया कराने एवं उनको आर्थिक रूप से मजबूत करने की दृष्टि से रमपुरी में 6.5 मीटर ऊंचाई एवं बण्ड 155  मीटर लंबाई तालाब निर्माण कार्य कराया गया। जिसका भराव क्षेत्र 150m X 200m एवं कैचमेन्ट ऐरिया 0.50 वर्ग किलो मीटर है। जिसमें वर्तमान में लगभग 4 मीटर पानी (कुल 1,20,000 घनमीटर पानी) भरा हुआ है।

  उक्त तालाब निर्माण कार्य में लगभग 5862 मानव दिवस का रोजगार सृजित हुआ एवं तालाब में कुल व्यय 24.43 लाख हुआ है। ग्राम रमपुरी एवं खापा के ग्रामीणों जनों को निस्तार एवं मवेशियों हेतु पानी की सुविधा उपलब्ध हुई है, ग्राम वासियों जल समस्या का निदान होने से ग्रामीणजन प्रसन्न होते हुए शासन का धन्यवाद देते हैं।        

हिन्दुस्थान संवाद

error: Content is protected !!