पानी की तलाश में पहुंचे शावकों का ग्रामीणों ने किया घेराव, रेस्क्यू कर पहुंचाया कान्हा नेशनल पार्क

सिवनी, 17 मई । सिवनी के केवलारी विकासखंड के उगली थाना क्षेत्र के गांव बेलगांव में मंगलवार को बड़ी संख्या में ग्रामीणों ने भटक कर पानी पीने आए बाघ के दो शावकों को घेर लिया है। जिसकी सूचना वन अमले को दी गई हैं। वहीं उगली से पुलिस बल बेलगांव के लिए रवाना हुई, काफी मशक्कत के बाद दोनों शावकों को पकड़ लिया गया हैं। जिन्हें वन विभाग की रेस्क्यू टीम कान्हा नेशनल पार्क ले गई है।

उगली थाना प्रभारी एसएस भारद्वाज ने बताया है कि बेलगांव के पास स्थित तालाब में मंगलवार दोनों शावक पानी पीने पहुंचे थे। तालाब के पास ही तेंदूपत्ता के फड़ में मौजूद ग्रामीणों ने दोनों शावक को देख कर अन्य ग्रामीणों को बुला लिया।

देखते ही देखते बड़ी संख्या में ग्रामीण हाथों में डंडा लेकर मौके पर पहुंच गए। जिसके बाद ग्रामीणों की भीड़ ने बाघ व शावक को घेर लिया है। जानकारी के मुताबिक दोनों शावक झाड़ियों में छिपे हैं।

बाघ व तेंदुआ के आतंक से परेशान ग्रामीण

उगली क्षेत्र में बाघ व तेंदुआ के आतंक से ग्रामीणों में खासा आक्रोश है। पूर्व में भी बाघ व तेंदुए के हमले से ग्रामीण जान गवां चुके है। करीब एक पखवाड़ा पहले भी उगली क्षेत्र के आस पास बाघ को देखा गया था। ग्रामीणों ने बाघ को पकड़ने की गुहार जिम्मेदार अधिकारियों से लगाई थी।

मंगलवार की जब फिर शावक तालाब के पास दिखा तो आक्रोशित ग्रामीणों ने उसे घेर लिया। साथ ही अधिकारी जांच में जुटे हैं। वहीं उन्हें पकड़ने के लिए रेस्क्यू टीम भी मौके पर पहुंची।

इस दौरान दक्षिण सामान्य वनमंडल के वनमंडलाधिकारी सुदेश महिवाल, पेंच टाईगर रिजर्व के उपसंचालक रजनीश कुमार सिंह, संभागीय प्रबंधक वन विकास निगम श्रीमति भारती ठाकरे(आईएफएस) , वन परिक्षेत्र अधिकारी दिनेश रामटेके, योगेश पटेल, संतोष बनवाले ,एच.एल दाहिया, और वनकर्मी जुनैद हुसैन, आर्माे वनरक्षक सहित रेस्क्यू टीम ने बड़ी जद्दोजहद के बाद दोनों शावकों को पकड़ने में सफलता प्राप्त कर ली है और उन्हें कान्हा नेशनल पार्क में पहुचाया गया है।

इस मामले में संभागीय प्रबंधक, वन विकास निगम श्रीमति भारती ठाकरे (आईएफएस) ने बताया कि बाघ के दो शावक मिले है। मौके पर वन विभाग ,पुलिस की संयुक्त टीम है। रेस्क्यू टीम द्वारा बाघ के दोनो शावको को पकड लिया गया है। जिन्हे कान्हा नेशनल पार्क पहुंचाया गया है।

हिन्दुस्थान संवाद

follow hindusthan samvad on :
error: Content is protected !!