सिवनी,19 अक्टूबर। जिले के उगली थाना क्षेत्र अंतर्गत तेंदुआ व्दारा ग्राम पांडीवाड़ा में बीते 16 अक्टूबर को एक 16 वर्षीय बालिका रवीना पुत्री जंगलू यादव तथा ग्राम मोहगांव में मंगलवार 19 अक्टूबर को 48 वर्षीय महिला को मार दिया गया है। यह बात मंगलवार की देर शाम को दक्षिण सामान्य वनमंडल के वनमंडल अधिकारी एस.के.एस.तिवारी ने कही।
उन्होनें बताया कि वन विभाग द्वारा मोहगांव एवं पांडीवाडा ग्राम के आसपास वनक्षेत्र में 04 पिंजरे लगाकर उसे पकड़ने की कार्यवाही की जा रही है। वन कर्मचारियों व्दारा लगातार क्षेत्र में दिन एवं रात्रि में गश्ती कराई जा रही है।
उन्होनें ग्रामीणों से अपील है कि वे जब तक तेंदुआ पकड़ा नहीं जाता है तब तक वनक्षेत्रों एवं खेतों में अकेले न जायें । विशेषकर महिलायें वनक्षेत्र में प्रवेश न करें। वनक्षेत्र के किनारे के खेतों में भी अकेली महिला न जावें बल्कि समूह बनाकर खेतों में काम करें। खेतों में महिलाओं व्दारा कार्य किये जाने के दौरान एक-दो व्यक्ति इन कार्य करनेवाली महिलाओं की निगरानी करें वन विभाग व्दारा मुख्यालय से तेंदुआ को आदमखोर घोषित करने हेतु लेख किया जा रहा है।
ज्ञात हो कि इस आदमखोर तंेदुए द्वारा 15 सिंतबर को मोहगांव के जंगल में लकडी बीनने गई रंजीता (50)पत्नी मोहब्बत सिंह, 16 अक्टूबर को मवेशी चराने गई पांडीवाडा निवासी रवीना(17) पुत्री जंगलू यादव व मंगलवार 19 अक्टूबर को खेत में धान काट रही गजरो बाई(48) पत्नी उदल पंचेश्वर सहित बीते एक माह में पालतू पशुओं को अपना शिकार बना चुका है। इससे क्षेत्रवासियों में डर व भय का माहौल है। उगली क्षेत्र के मोहगांव, सकरी, पांडीवाडा, कातोली गांव जंगल से घिरे हुए है।

हिन्दुस्थान संवाद

error: Content is protected !!