उ.प्र. के प्रमुख सचिव पर्यटन श्री मेश्राम ने जानी म.प्र. टूरिज्म की कार्य-प्रणाली

एमपी और यूपी टूरिज्म अधिकारियों के बीच हुई सार्थक चर्चा

भोपाल, 05 मार्च।मध्यप्रदेश टूरिज्म की कार्य-प्रणाली एवं योजनाओं को विस्तार से समझने के लिए उत्तर प्रदेश के प्रमुख सचिव पर्यटन श्री मुकेश कुमार मेश्राम अपने अधिकारियों के साथ पर्यटन भवन पहुँचे। उन्होंने निगम प्रबंध संचालक श्री एस. विश्वनाथन, मध्यप्रदेश टूरिज्म बोर्ड की अपर प्रबंध संचालक श्रीमती शिल्पा गुप्ता तथा पर्यटन विभाग के अधिकारियों के साथ विस्तृत चर्चा की। साथ ही मध्य प्रदेश टूरिज्म बोर्ड एवं पर्यटन विकास निगम की कार्य-प्रणाली को प्रस्तुतिकरण के माध्यम से भी समझा।

प्रमुख सचिव श्री मेश्राम ने अपनी टीम के साथ पर्यटन विकास निगम की भोपाल स्थित इकाई रेल कोच रेस्टोरेंट भोपाल एक्सप्रेस, इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर कुशाभाऊ ठाकरे सभागार, ड्राइव-इन सिनेमा और ट्राइबल म्यूज़ियम आदि स्थानों का अवलोकन भी किया।

प्रमुख सचिव श्री मेश्राम ने मध्यप्रदेश टूरिज्म की पर्यटन नीति को अत्याधिक सराहा। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश टूरिज्म द्वारा पर्यटन को बढावा देने किये जा रहे कार्य निश्चित ही सराहनीय है। मध्यप्रदेश की ग्रामीण पर्यटन नीति, वेलनेस नीति, फ़िल्म टूरिज्म, एडवेंचर टूरिज्म, नेचर टूरिज्म, वाइल्डलाइफ टूरिज्म, सिंगल विन्डो सिस्टम, एकल महिला पर्यटन, महिलाओं हेतु सुरक्षित गंतव्य जैसी नवीन नीतियाँ और कार्यक्रम पर्यटन को बढावा देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश के वार्षिक पर्यटन संवर्धन उत्सव जैसे जल महोत्सव, माण्डू उत्सव, ओरछा महोत्सव सहित अन्य सभी के बारे में जानकर हमें अपने प्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा देने में निश्चित ही मदद मिलेगी। यह चर्चा दोनों प्रदेशों के बीच पर्यटन गतिविधियों को साझा रूप से प्रचार-प्रसार करने में सहायक होगें।

उत्तरप्रदेश पर्यटन विकास निगम के महाप्रबंधक श्री अक्षय नागर एवं रतींद्र पांडेय तथा मध्यप्रदेश टूरिज्म बोर्ड के उप संचालक श्री युवराज पडोले, पर्यटन निगम के महाप्रबंधक श्री एस.पी. सिंह और संचालक तकनीकी श्री विजय सिंह वर्मा उपस्थित थे।
हिन्दुस्थान संवाद

follow hindusthan samvad on :
error: Content is protected !!