सिवनी, 25 मई। सिवनी जिले के आदिवासी विकासखंड लखनादौन के ग्राम आदेगांव के युवाओं ने जहां चाह है, वहाँ राह है की कहावत को चरितार्थ करते हुए कोरोना महामारी के दौरान स्वास्थ्य संबंधी व्यवस्थाओं में प्रशासन के साथ कदम से कदम मिलाते हुए सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराने के उद्देश्य से एक निः शुल्क चलित अस्पताल ही प्रारंभ कर लिया है।


जिला समन्वयक जनअभियान परिषद सौरभ शुक्ला ने मंगलवार की देर शाम को हिन्दुस्थान संवाद को जानकारी देते हुए बताया कि चलित अस्पताल प्रारंभ करने वाले युवा मप्र जन अभियान परिषद की ग्राम विकास प्रस्फुटन समिति आदेगांव से जुड़े हुए हैं, इन युवाओं ने अपने साथ गाँव के अन्य समाजसेवी युवाओं को जोड़कर नर्मदा सेवा समिति बनाई जिसके अंतर्गत ग्रामीणों के लिए सुविधा युक्त निःशुल्क चलित अस्पताल प्रारंभ किया है। चलित अस्पताल के माध्यम से सुदूर ग्रामों में पहुंच कर सामान्य मौसमी बीमारियों का उपचार उपलब्ध कराया जा रहा है।

इसके साथ ही कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए कोविड टीकाकरण अवश्यक कराने की सलाह भी ग्रामीणों को दी जा रही है। इनके द्वारा अबतक आदेगांव के हमीरगढ़, गणेशगंज ने शिविर लगाकर ग्रामीणों का उपचार एवं निःशुल्क दवा वितरण किया गया।
सौरभ शुक्ला ने बताया कि पीड़ित मानव सेवा के इस अनूठे कार्य में ग्राम विकास प्रस्फुटन समिति,नर्मदा सेवा समिति,से जुड़े सभी समाजसेवी बँधुओ के साथ मुख्यतः डॉक्टर जयशंकर साहू, पैथोलॉजिस्ट शरद साहू, तिलक जाटव, सचिन पाटकर, आलोक नेमा ,मुकेश साहू, , नीरज श्रीवास्तव, सुरेंद्र डेहरिया, मनोज तिवारी, आदित्य मिश्रा,मप्र जन अभियान परिषद की लखनादौन विकासखण्ड समन्वयक श्रीमती रीता श्रीवास्तव सहित समाजसेवीजन सहयोगरत है।
हिन्दुस्थान संवाद