सिवनीः कोई बना बाल गंगाधर तिलक तो कोई बनी झाँसी की रानी, बलिदानियों का बाना पहनकर छात्र-छात्राओं ने सभी का मन मोह लिया

सिवनी,21 सितम्बर। जिला मुख्यालय स्थित शासकीय स्नाकोत्तर महाविद्यालय सिवनी में आज़ादी का अमृत महोत्सव के अंतर्गत बुधवार को विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन हुआ। इस दौरान स्वाधीनता सेनानियों पर आधारित फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता की धूम कालेज में रही। बलिदानियों का बाना पहनकर छात्र-छात्राओं ने सभी का मन मोह लिया। अधिकांश प्रतिभागी छात्राओं ने झाँसी की रानी लक्ष्मीबाई के कई रूप दिखाये। दूसरी ओर बाल गंगाधर तिलक, रानी अहिल्या बाई और बेगम हज़रत महल भी मंच पर दिखाई दीं। फैंसी ड्रेस (बहुरूप परिधान) प्रतियोगिता में उज्ज्वल ठाकुर ने बाल गंगाधर तिलक का रूप धारण कर प्रथम स्थान प्राप्त किया।


शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय के प्रोफेसर एवं कार्यक्रम के सह संयोजक सत्येन्द्र कुमार शेन्डे ने बताया कि अगस्त 2023 तक आज़ादी का अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है। इसके तहत भारतीय स्वाधीनता के 75 बरस की थीम पर प्रतियोगिताओं के माध्यम से ज्ञात-अज्ञात बलिदानियों का स्मरण और विद्यार्थियों को लोकतंत्र का जागरूक नागरिक बनने के लिए प्रेरित किया जा रहा है।
संयोजक डॉ रविशंकर नाग ने बताया कि दो दिवसीय प्रतियोगिताओं में भाग लेने के लिए छात्र छात्राओं के बीच जमकर होड़ लगी रही। बताया कि पहला स्थान पाने वाले विजेता विद्यार्थी को जिला स्तर पर कॉलेज का प्रतिनिधित्व करने का मौका मिलेगा।
बुधवार को आयोजित निबंध प्रतियोगिता में शिवानी सनाड्य प्रथम, भाषण प्रतियोगिता में नीतेश चौबे प्रथम ,रंगोली प्रतियोगिता में नेहा बारमासे प्रथम ,चित्रकला प्रतियोगिता में दिव्या बघेल प्रथम ,पोस्टर प्रतियोगिता में नीलिमा चौधरी प्रथम ,ज्ञात-अज्ञात बलिदानियों की छोटी प्रेरक कहानी पाठ प्रतियोगिता में उज्ज्वल ठाकुर प्रथम , ज्ञात-अज्ञात बलिदानियों की बड़ी प्रेरक कहानी पाठ प्रतियोगिता में संयम जैन प्रथम, गीत गायन प्रतियोगिता में निवेदिता नाग प्रथम, गीत लेखन प्रतियोगिता में पूजा चौकसे प्रथम , कविता गायन प्रतियोगिता में शिवानी और कविता लेखन प्रतियोगिता में पूजा चौकसे प्रथम रही है।
बताया गया कि दो दिवसीय प्रतियोगिताओं के कार्यक्रम का संचालन प्रोफेसर सत्येन्द्र कुमार शेन्डे और प्रोफेसर रचना सक्सेना ने किया। इस दौरान क्रीड़ाधिकारी केसी राउर ने आभार जताया। वहीं कार्यक्रम में डॉ रेशमा बेगम, डॉ पूनम अहिरवार, प्रो सोनी भम्मरकर, डॉ अरविंद चौरसिया सहित कालेज प्रबंधन का विशेष योगदान रहा।
संयोजक डॉ रविशंकर नाग ने बताया कि जिला स्तरीय प्रतियोगिता 22 और 23 सितम्बर को पीजी कॉलेज में होगी, जिसमें जिले भर के सभी शासकीय और गैर सरकारी कॉलेज के विद्यार्थीहिस्सा लेंगे। प्राचार्य डॉ संथ्या श्रीवास्तव ने विद्यार्थियों से उपस्थित होकर कार्यक्रम को सफल बनाने का आग्रह किया है।
हिन्दुस्थान संवाद

follow hindusthan samvad on :