सिवनी, 11 सितम्बर। जिले के जिला न्यायालय के 22 खंडपीठ जिसमें सिवनी, तहसील न्यायालय लखनादौन एवं घंसौर में आयोजित नेशनल लोक अदालत में 1406 लोग लाभांवित हुए जिनसे राशि 3,33,76,457 रूपये का संव्यवहार हुआ।


जिला विधिक सेवा प्रधिकरण ने शनिवार की देर शाम को बताया कि राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देष पर शनिवार को नेशनल लोक अदालत का शुभारंभ पवन कुमार शर्मा, प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश,अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सिवनी द्वारा दीप प्रज्जवलित कर किया गया। शुभारंभ कार्यक्रम में डॉ. राहुल हरिदास फटिंग, जिला कलेक्टर सिवनी, रामब्रेश यादव, विशेष न्यायाधीश, श्रीमती किरण सिंह, प्रधान न्यायाधीश कुटुम्ब न्यायालय , जिला न्यायालय सिवनी के समस्त न्यायाधीशगण, जिला अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष रवि गोल्हानी, उपाध्यक्ष सुनील कुमार पाण्डेय, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्याम कुमार मरावी, अपर कलेक्टर सुश्री सुनीता खण्डायत एवं जिला विधिक सहायता अधिकारी श्रीमती दीपिका तारन एवं समस्त स्टॉफ उपस्थित रहंे।
बताया गया कि जिला एवं सत्र न्यायाधीश, अध्यक्ष जिला न्यायालय सिवनी के निर्देशन में सिवनी, लखनादौन, घंसौर में आयोजित की गई नेशनल लोक अदालत में दीवानी एवं दांडिक न्यायालयों की खंडपीठें गठित की गई है। कुल 22 खंडपीठों में समझौता योग्य प्रकरण 2916 रखे गये, जिनमें से 626 प्रकरण निराकृत किये गये। धारा 138(चेक बाउन्स) के 774 में से 42 प्रकरणों में 1,40,20,777 रूपये की समझौता राशि का आदेश पारित हुआ। वहीं मोटर दुर्घटना क्षतिपूर्ति दावा के 513 में से 40 प्रकरणों में 86,000,00 रूपये राशि का अवार्ड पारित किया गया। अन्य सिविल प्रकरण 334 में से 49 प्रकरणों में 34,12,271 रूपये की समझौता राशि का आदेश पारित हुआ।
इसी प्रकार विद्युत अधिनियम के 30 प्रकरण में से 10 प्रकरणों में 99,882/- रूपये समझौता राशि का आदेश व पारिवारिक विवाद से संबंधित 291 प्रकरण में से 24 प्रकरण निराकृत हुए। इसी प्रकार पूर्व वाद प्रकरणों में बैंक वसूली के 6843 प्रकरण में से 104 प्रकरणों में आपसी समझौते से 54,71,293 रूपये की राशि की वसूली की गई।
विद्युत अधिनियम के पूर्व वाद प्रकरण 642 प्रकरण में से 139 प्रकरणों में 12,15,000 रूपये , नगरपालिका से संबंधित जलकर के 676 में से 72 प्रकरणों में 4,33,732 रूपये जलकर राशि वसूल की गई। इसी प्रकार बीएसएनएल के पूर्ववाद के 372 प्रकरण में से 28 प्रकरणों में आपसी समझौते से 1,23,502 रूपये की राशि वसूल की गई। सभी मामलों का निराकरण पक्षकारों की आपसी सहमति से हुआ।
बताया गया कि प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश , अध्यक्ष ने पक्षकारों को आपसी रजामंदी के द्वारा मामलों के निराकरण के लिए बधाई दी, वहीं जिला मुख्यालय सिवनी में रामब्रेश यादव, श्रीमती किरण सिंह, प्रधान न्यायाधीष, कुटुम्ब न्यायालय, राजर्षि श्रीवास्तव, प्रथम जिला एवं अपर सत्र न्यायाधीष, संदीप कुमार श्रीवास्तव, तृतीय जिला एवं अपर सत्र न्यायाधीष, सुनील कुमार मिश्र, चतुर्थ जिला एवं अपर सत्र न्यायाधीष, श्रीमती सुचिता श्रीवास्तव तथा लखनादौन मुख्यालय पर आशुतोष अग्रवाल, प्रथम जिला एवं अपर सत्र न्यायाधीष, संजयराज ठाकुर, द्वितीय जिला एवं अपर सत्र न्यायाधीष लखनादौन ने अपनी-अपनी खंडपीठों की अध्यक्षता की गई।
जिले के न्यायिक मजिस्ट्रेटगण श्रीमती सपना पोर्ते, डॉ संगीता प्रितेष बर्वे, श्रीमती कमला उइके, राजू पंद्रे, सुश्री वीणा अग्निहोत्री, सुश्री शिवांगी सिंह परिहार, सुश्री नेहा प्रजापति, गोपालनंदन पाल तथा तहसील न्यायालय लखनादौन में श्रीमती चौनवती ताराम, सचिन ज्योतिषी, सुश्री अनुदिता चौरसिया, नृपेन्द्र सिंह परिहार, सुश्री लघुता मरकाम, एवं तहसील न्यायालय घंसौर में नेशानल लोक अदालत में प्रकरणों का निराकरण किया गया।
हिन्दुस्थान संवाद