प्रातः बजे से शाम बजे तक व्यावसायिक गतिविधि संचालित करने की छूट देने के प्रभारी मंत्री श्री कावरे ने दिये निर्देश

सिवनी, 11 जून। जिले के कोविड प्रभारी एवं प्रदेश शासन के राज्यमंत्री आयुष विभाग (स्वतंत्र प्रभार) जलसंसाधन विभाग श्री रामकिशोर नानो  कावरे द्वारा शुक्रवार 11 जून को ऑनलाइन वीसी के माध्यम से जिलें की कोरोना संक्रमण की स्थिति तथा अनलॉक के प्रभाव की समीक्षा की। उक्त बैठक मे कलेक्टर डॉ राहुल हरिदास फटिंग, पुलिस अधीक्षक श्री कुमार प्रतीक,सभी अनुविभागीय अधिकारी राजस्व एवं पुलिस, सभी मुख्य कार्यापालन अधिकारी जिला पंचायत एवं सभी नगरपालिका अधिकारी शामिल थे।

       बैठक में कलेक्टर डॉ फटिंग ने जानकारी देते हुए बताया कि वर्तमान में जिलें में कोरोना संक्रमण के 65 एक्टिव केस हैं, जिसमें से 61 होम क्वारंटाइन में हैं। संक्रमित व्यक्ति के त्वरित चिन्हांकन के लिए जिलें में निर्धारित लक्ष्य से अधिक व्यक्तियों के प्रतिदिन नमूनें लिए जा रहें हैं। इसके साथ ही वैक्सीनेशन कार्यक्रम को अभियान के रूप में युध्द स्तर में संचालित किया जा रहा हैं। उन्होंने बताया कि जिलें की 645 ग्राम पंचायतों एवं नगरीय क्षेत्रों के 84 वार्डो मे से कोई भी रेड जोन में नही हैं। 24 ग्राम पंचायतों एवं 12 वार्डो में ही एक्टिव केस हैं। सभी मरीजों को रोगोपचार की व्यवस्था सुनिश्चित करने के साथ ही इनके संपर्क में आये व्यक्तियों को होम आइसोलेट किया गया हैं। 

       आयुष मंत्री श्री कावरे ने विकासखण्डवार अनुविभागीय अधिकारी राजस्व एवं अनुविभागीय अधिकारी पुलिस से भी विस्तृत चर्चा कर संक्रमण की स्थिति के साथ ही अनलॉक उपरांत बाजारों एवं अन्य गतिविधियों के प्रारंभ होने के प्रभाव तथा संक्रमण की रोकथाम के लिए किए गए प्रयासों के संबंध में जानकारी प्राप्त की। उन्होने आगामी अनलॉक-2 के संबंध में भी अधिकारियों से चर्चा कर आवश्यक दिशा निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि संक्रमण की रोकथाम के लिए बाजारों में सोशल डिस्टेंसिग पालन किया जाना तथा भीड़ पर नियंत्रण करना अतिआवश्यक हैं। जिसके लिए अधिकारी सतत रूप से बाजारों का निरीक्षण करें, स्थानीय स्तर पर व्यापारिक संघों की बैठक लेकर उनसे अपेक्षित सहयोग के लिए उन्हे शासन की गाइडलाइन से अवगत कराया जाये। उन्होंने सोशल डिस्टेंसिग का पालन न करने वाले तथा मास्क का उपयोग न करने वाले व्यक्तियों पर सख्त कार्यवाही करने के निर्देश भी दिए। 

       आयुष मंत्री श्री कावरे ने व्यापारी वर्ग के हितों को ध्यान में रखते हुए प्रातः10 बजे के बजाये, प्रातः 6 बजे से शाम 6 बजे तक व्यावसायिक गतिविधियों को संचालित करने की अनुमति प्रदान करने के निर्देश भी अधिकारियों को दिए। मंत्री  श्री कावरे ने कोविड वैक्सीनेशन पर जोर देते हुए कहा कि आमजनों को संक्रमण से बचाने के लिए शीघ्र अति शीघ्र सभी का टीकाकरण किया जाना अतिआवश्यक हैं। जिसके लिए उन्होंने वैक्सीनेशन कवरेज के अनुसार जिलें को रेड, येलो, ग्रीन जोन में बांटते हुए रेड जोन को येलो फिर येलो से ग्रीन में बदलने का फार्मूला दिया। उन्होंने उक्तानुसार कार्ययोजना बनाकर जिलें में शतप्रतिशत व्यक्तियों का वैक्सीनेशन पूर्ण करवाने ने निर्देश दिए। उन्होंने सभी अधिकारियों को व्यक्तिगत रुचि से वैक्सीनेशन के लाभों के अधिक से अधिक प्रसार प्रचार करने के लिए भी कहा। मंत्री कावरे ने मैदानी स्तर में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए सभी अधिकारियों को अपने भ्रमण के दौरान प्राथमिक एवं उपस्वास्थ्य केंद्रों के निरीक्षण कर व्यवस्थाओं एवं स्वास्थ्य कर्मियों की उपस्थिति की वस्तुस्थिति का जायजा लेते हुए लापरवाही बरतने वाले कर्मियों पर कार्यवाही करने के लिए प्रतिवेदन प्रस्तुत करने के भी निर्देश दिए। 

हिन्दुस्थान संवाद