सिवनी, 12 अक्टूबर। जिले के कोतवाली पुलिस ने सोमवार की देर रात नगरीय क्षेत्र भैरोगंज गौंडी मोहल्ला पुलिस लाईन स्थित शिव शक्ति मंदिर के पास रोते हुए मिले एक अज्ञात दो वर्षीय बालक को एक घंटे के अंदर उसके परिजनों के सुपुर्द किया है।
मीडिया अधिकारी देवेन्द्र जायसवाल ने मंगलवार की देर शाम को जानकारी दी कि सोमवार की देर शाम सूचना मिलने पर कोतवाली पुलिस टीम नगरीय क्षेत्र भैरोगंज गौंडी मोहल्ला पुलिस लाईन स्थित शिव शक्ति मंदिर के पास पहुंची जहां पर एक अज्ञात दो वर्षीय बालक रोते हुए मिला जिसे कोतवाली थाना लाया गया।


आगे बताया गया कि वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन पर बालक के परिजनों की पतासाजी हेतु शहर में सभी मोबाइल वाहनों, एवं चीता बाइकर्स द्वारा लाउड स्पीकर से अनाउंसमेंट कराया गया। इसके साथ ही सोशल मीडिया का उपयोग कर व्हाट्सएप एवं फेसबुक के माध्यम से बालक की तस्वीर को प्रसारित किया गया।
इस दौरान लगभग एक घंटे पश्चात प्रचार-प्रसार के माध्यम से बालक की जानकारी लगने पर सुशील कुमार पुत्र रमेश कुमार डहेरिया एवं श्रीमति चंपा पत्नी सुशील डहेरिया दोनो निवासी ग्राम बकोडी थाना बंडोल थाना कोतवाली पहुँचे जहाँ उनके द्वारा बच्चे की पहचान अपने पुत्र के रूप में की गई। बालक के परिजनों से बालक की पहचान संबंधी दस्तावेज मिलने के बाद पुलिस टीम ने सीडब्लूसी सदस्य सिवनी के समक्ष गुमे बालक को उसके माता पिता के सुपुर्द किया।
हिन्दुस्थान संवाद