सिवनी,22 नवंबर। जिला मुख्यालय से लगे ग्राम छतरपुर महाकालेश्वर टेकडी पर स्थित कन्या शिक्षा परिसर में मंगलवार की दोपहर को तीन दिन बासा खाना खाने से बीमार पडी 11 बालिकाएं का जिला चिकित्सालय सिवनी में किया जा रहा है। वहीं अन्य बालिकाएं के भी बीमार होने की खबर छात्रावास प्रबंधन ने दी है।


कन्या शिक्षा परिसर बोरदई टेकडी की अधीक्षक श्री मति कुशामिला इइपाचें ने मंगलवार को बताया कि विशेष विद्यालय का जिला स्तरीय खेलकूद कार्यक्रम शनिवार को था जिसमें मंगोडे और जलेबी व अन्य भोज्य सामग्री बनाई गई। जिसका उपयोग आयोजन के दिन व मंगलवार तक छात्रावास की बालिकाओं ने किया जिससे वह बीमार पड गई जिन्हें उपचार के लिए जिला चिकित्सालय लाया गया है। यह भोज्य सामग्री आउटसोर्स के माध्यम से प्रदाय की जाती है ठेकेदार द्वारा बासे बचे मंगोडे की सब्जी बनाकर मंगलवार को छात्राओं को दिया गया था। जिससे वह बीमार पडी है। भोजन सामग्री देते समय ठेकेदार अधीक्षक को जानकारी नही देते है जिसकी शिकायत वरिष्ठ अधिकारियों को पहले भी की गई है। इस बासा खाने से ज्यादा बीमार पडी 11छात्राएं को जिला चिकित्सालय लाया गया है जहां उनका उपचार जारी है। वहीं कुछ छात्राएं जिला चिकित्सालय से दवाई लेकर छात्रावास जा चुकी है।
जनजातीय कार्यविभाग के सहायक आयुक्त सतेन्द्र सिंह मरकाम ने मंगलवार की शाम को जानकारी दी कि कन्या छात्रा परिसर में बासा खाना खाने से बीमार पडी छात्राओं का उपचार जिला चिकित्सालय में किया जा रहा है सभी बालिकाएं स्वस्थ्य है। लापरवाही बरतने वाले लोगों पर कडी कार्यवाही की जायेगी।
हिन्दुस्थान संवाद

error: Content is protected !!