सिवनी,17 नवंबर। जिला मुख्यालय स्थित डॉ.भीमराव अंबेडकर प्रतिमा के पास स्वास्थ्य कर्मचारी संघ बीते 08 दिनों से अपनी 12 सूत्रीय मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन हडताल पर है। जिससे मंगलवार 16 नवंबर कोे नौनिहाल बच्चों एवं गर्भवती माताओं को स्वास्थ्य सेवाएं टीकाकरण से वंचित होना पड़ा है यह बात बुधवार को कर्मचारी संघ के अध्यक्ष लीलाधर राहंगडाले ने कही।
उन्होनें कहा कि न्यू बहुउद्देशीय स्वास्थ्य कर्मचारी संघ मध्य प्रदेश के आव्हान पर 12 सूत्रीय मांगों को लेकर स्वास्थ्य कर्मचारी संघ जिले में आठवें दिन निरंतर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर है। स्वास्थ्य कर्मचारियों की आर्थिक अनार्थिक मांगों को लेकर शासन-प्रशासन बेखबर कुंभकरण की नींद में सोया है जिसके कारण हड़ताल में बैठे कर्मचारियों में अत्यधिक रोष व्याप्त है।
लीलाधर राहंगडाले ने कहा कि पूरे प्रदेश में लगभग 40 जिले हड़ताल में चले गए हैं जिससे कोविड-19 वैक्सीनेशन का महा अभियान एवं ग्रामीण स्तर पर होने वाले नियमित टीकाकरण स्वास्थ्य सेवाएं प्रभावित हुई है।
प्रांतीय पदाधिकारियों से प्रदेश स्तर से मांगों के निराकरण हेतु वार्ता चल रही है लेकिन शासन प्रशासन के अड़ियल रवैया से सकारात्मक परिणाम नहीं आ रहे हैं। इससे ऐसा प्रतीत होता है कि शासन-प्रशासन को कोविड-19 वैक्सीनेशन एवं जनमानस को ग्रामीण अंचल में मिलने वाली स्वास्थ्य सेवाओं से कोई सरोकार नहीं है।
हड़ताल में कार्यकारी अध्यक्ष कुसुम चंद्रवंशी, समस्त ब्लॉक के कर्मचारी, बरघाट से रविंद्र तेकाम अंजना चौहान जे.सी. अडमाचे, छपारा से पी.एल. मुड़िया अध्यक्ष छपारा ब्लाक, एच.सी.साहू ,श्रीमती एस. हरिद्ंवार, गोपालगंज से श्रीमती योगिता मिश्रा, पूनम ठाकुर, श्रीमती व्ही एल आमाडारे ,कुरई से नियाज बी खान, अर्चना परते देवेंद्री उइके, केवलारी से तेजराम देशमुख, दुर्गा कुमरे, केवलारी से श्रीमती गंगा कुशराम, शकील खान ,संतोष उईके, सहित अन्य कर्मचारी उपस्थित रहे।
हिन्दुस्थान संवाद

error: Content is protected !!