सिवनी, 13 सितम्बर।जिले में सोमवार को सी.वी. रमन वार्ड के 1 से 19 वर्ष के बच्चों तुलसी, विद्या, नंदनी तथा रंजीत को एल्बेंडाजॉल की गोली खिलाकर कृमि नाशक दिवस का शुभारंभ किया गया है।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. राजेश श्रीवास्तव ने बताया कि वर्ष 2021-22 में कृमिमुक्ति के लक्ष्य की प्राप्ति हेतु जिले में राष्ट्रीय कृमिमुक्ति कार्यक्रम का आयोजन दिनांक 13 सितम्बर से 23 सितंबर 2021 तक समुदाय आधरित गृह भ्रमण रणनीति के माध्यम से किया जाना है।
जिसके अंतर्गत सोमवार को सी.वी. रमन वार्ड में 1 से 19 वर्ष आयु वाले बच्चो को डीएचओ -2 राजकुमार धुर्वे, जिला टीकाकरण अधिकारी लोकेश चौहान तथा उपजिला विस्तार एवं माध्यम अधिकारी श्रीमति शांति डहरवाल के द्वारा एल्बेंडाजॉल की गोली खिलाकर कृमिनाशक दिवस कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। तथा आए हुए बच्चे एवं उनके माता पिता को कृमि संक्रमण से बचाव के तरीको के बारे में बताया गया जैसे नाखून साफ और छोटे रखे, हमेशा साफ पानी पिए, अपने हाथो को साबुन से धोयें विशेषकर खाने से पहले तथा शौच जाने के बाद, साफ पानी से फल व सब्जियां धाये, खाने को ढककर रखे, खुले में शौच न करे हमेशा शौचालय का प्रयोग करें, अपने आसपास साफ सफाई रखे एवं जूते चप्पल का उपयोग करें।
साथ ही उपस्थित कर्मचारियों को 13 से 23 सितंबर 21 के बीच घर-घर, स्कूल तथा आंगनवाड़ी केंद्रो में जाकर 1 से 19 आयु वर्ग के सभी बच्चो को अनिवार्य रूप से उम्र अनुसार एल्बेंडाजॉल की गोली पीसकर,चबाकर,पानी के साथ खिलाने के बारे में समझाईश दी गई।
कार्यक्रम के शुभारंभ में डीएचओ-2 राजकुमार धुर्वे, जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. लोकेश चौहान, उपजिला विस्तार एवं माध्यम अधिकारी श्रीमति शांति डहरवाल, एलडीसीएमआईएस धनीराम ब्रोकर, आशा रीना रजक, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता आशा तिवारी तथा आंगनवाड़ी सहायिका वंदना वनोदिया उपस्थित थें।
उल्लेखनीय है कि बच्चो में कृमि संक्रमण व्यक्तिगत अस्वच्छता तथा संक्रमित दूषित मिटटी के संपर्क से संभावित होता है। कृमि संक्रमण से बच्चो का जहां एक ओर शारीरिक एवं बौद्धिक विकास बाधित होता है वही दूसरी ओर उनके पोषण स्तर पर दुष्प्रभाव पड़ता है। अत 1-19 वर्षीय बच्चो का कृमिनाशन करना अत्यंत आवश्यक है। ।
इसलिए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने नागरिको से अपील की है कि 13 सितंबर से 23 सितंबर 21 तक चलने वाले राष्ट्रीय कृमि नाशन कार्यक्रम में अपने 1 वर्ष से 19 वर्ष के सभी बालक,बालिकाओं को एल्बेंडाजॉल गोली का सेवन अवश्य करायें जिससे कि समुदाय में कृमि की व्यापकता में कमी, स्वास्थ्य और पोषण में सुधार, एनीमिया पर नियंत्रण तथा रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि लाई जा सकें।
हिन्दुस्थान संवाद