SEONI : कलेक्टर डॉ फटिंग ने किया दुग्ध शीत केन्द्र एवं पशु आहर संयंत्र  बंडोल का आकस्मिक निरीक्षण 

सिवनी, 03 मार्च । कलेक्टर डॉ.राहुल हरिदास फटिंग द्वारा गुरूवार 03 मार्च को दुग्ध शीत केन्द्र एवं पशु आहर संयंत्र बंडोल का आकस्मिक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान दुग्ध शीत केन्द्र बंडोल में सहकारी दुग्ध समितियों से दुग्ध संकलन, उसका शीतलीकरण एवं भंडारण का अवलोकन करते हुए कलेक्टर डॉ.फटिंग ने प्रतिदिन दुग्ध संकलन की जानकारी ली। क्षेत्रीय प्रबंधक श्रीमती पायल दहाटे द्वारा अवगत कराया गया कि जिले में दुग्ध संकलन एवं शीतलीकरण की कुल क्षमता 30000 लीटर प्रतिदिन है जिसमें से वर्तमान में 10000-12000 लीटर प्रतिदिन दुग्ध संकलन कार्य हो रहा है। जिले से दुग्ध का संकलन प्रायवेट संस्थाओं द्वारा भी किया जा रहा है। दुग्ध एवं दुग्ध उत्पाद के विपणन की समस्या के संबंध में क्षेत्रीय प्रबंधक द्वारा अवगत कराया गया। कलेक्टर सिवनी द्वारा उपसंचालक डॉ.जे.पी.शिव पशुपालन विभाग सिवनी को आवश्यक कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया गया।

कलेक्टर डॉ.फटिंग द्वारा पशु आहार संयंत्र केंद्र बंडोल का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान पशु आहार सुदाना के कच्चे माल, पशु आहार बनाने की प्रक्रिया का अवलोकन किया गया। पशु आहार संयंत्र केंद्र बंडोल प्रभारी श्री धरमवीर द्वारा अवगत कराया गया कि संयंत्र का प्रतिदिन उत्पदान की क्षमता 50 मीट्रिक टन है, वर्तमान में प्रतिदिन 40 मीट्रिक टन उत्पादन हो रहा है। पशु आहार सुदाना का विपणन जबलपुर, रीवा संभाग एवं महाराष्ट्र के नागपुर अमरावती जिलों की मदर डेयरियों में किया जा रहा है। वर्तमान में अधिकतम मूल्य 2050 रूपये प्रति क्विंटल है। कलेक्टर सिवनी के भ्रमण के दौरान उपंसचालक डॉ.जे.पी.शिव, डॉ.राजेश ठाकुर सहायक संचालक पशुपालन विभाग श्रीमती पायल दहाटे क्षेत्रीय प्रबंधक श्री द्विवेदी दुग्ध शीत केंद्र बंडोल एवं श्री धरमवीर सहायक प्रबंधक पशु आहार संयंत्र केंद्र बंडोल उपस्थित रहे।  

हिन्दुस्थान संवाद

follow hindusthan samvad on :
error: Content is protected !!