सिवनी,22 नवंबर। जिले की पुलिस ने रविवार-सोमवार की दरम्यिानी रात्रि में अवैध रूप से गौवंश ले जाते तस्करों पर कार्यवाही करते थाना कान्हीवाडा के ग्राम ईदावाडी से 25 मवेशी, एक आयशर वाहन व एक टवेरा वाहन और थाना धूमा क्षेत्र अंतर्गत गरघाटिया के पास से 1980 मवेशियों को बरामद कर 16 आरोपितों के विरूद्ध मामला पंजीबद्ध किया है। वहीं फरार आरोपितो की तलाश सिवनी पुलिस कर रही है।


मीडिया अधिकारी देवेन्द्र जायसवाल ने सोमवार की देर शाम को जानकारी दी कि मुखबिर की सूचना पर थाना कान्हीवाड़ा के ग्राम ईदावाड़ी की ओर से एवं थाना आदेगांव के ग्राम गौराबीबी की ओर से पुलिस टीम ने वाहन चैकिग अभियान लगाया इस दौरान संदिग्ध टवेरा वाहन क्रमांक एमएच12एएक्स4551 ने पुलिस टीम को देखकर वाहन चालक एवं एक अन्य व्यक्ति गाडी छोडकर अधेरे का फायदा उठाकर फरार हो गया। जिस पर पुलिस ने संदिग्ध वाहन की तलाशी ली जिसमें 05 मवेशी पायें गये। इसी क्रम में गौराबीबी की ओर आ रहे आयशर वाहन के वाहन चालक ने भी पुलिस टीम को देखकर वाहन भगाया और वाहन छोडकर फरार हो गये। जिसे पुलिस टीम ने कुरमुंडा नाला के पकडा जिस पर 20 मवेशिया पायें गये। पुलिस ने बरामद मवेशियों को नजदीकी गौशाला पहुंचाकर अज्ञात आरोपितों केे विरूद्ध गौवंश वध अधिनियम एवं 11 (घ) पशुक्रूरता अधिनियम का प्रकरण एवं थाना आदेगांव में अप क्र 364/2021 धारा 4,6,9,6(ए),6(बी) गौवंश वध अधिनियम, 6,7 कृषक पशु परिरक्षण अधिनियम, 11 घ पशु अधिनियम,3,7 ईसी एक्ट का प्रकरण पंजीबध्द कर विवेचना में लिया है।
आगे बताया कि इसी क्रम में मुखबिर की सूचना पर पुलिस टीम ने थाना धूमा अंतर्गत गरघटिया के पास दबिश दी जहां गौवंश मवेशियों को मारते-पीटते हुए नागपुर महाराष्ट्र कत्लखाने ले जा रहे 16 आरोपितों क्रमश हनुमान पुत्र राजू बंजारा निवासी शाहपुरा, खेमराज पुत्र भीका बंजारा निवासी बागीचा एवं ग्राम आबादा निवासी पप्पू पुत्र नारायण बंजारा, माधू पुत्र नारायण बंजारा निवासी ,ठाकुर पुत्र बनिया बंजारा,भवरलाल पुत्र फौजा बंजारा,सुल्तान पुत्र ताला, लाखन पुत्र राजू बंजारा, भोदूलाल पुत्र भावा बंजारा, अमरा पुत्र फौजा बंजारा, सरवन पुत्र भंगीलाल डोडर , ग्राम नागासोडा निवासी शंकर पुत्र नारायण बंजारा, ग्राम भोजका निवासी नेहासिंह पुत्र अमरासिंह भारू , जयराम पुत्र जगन्नाथ बंजारा, प्रताप पुत्र हरि बंजारा ,हरबू पुत्र भांगीलाल के कब्जे से 1980 मवेशियों को बरामद कर नजदीकी गौशाला में पहुंचाया गया है। पुलिस ने आरोपितों के विरूद्ध धारा 4,6,9 गौवंश वध अधिनियम, 11 (घ) पशु क्रूरता अधिनियम का प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया है।
हिन्दुस्थान संवाद

error: Content is protected !!