सिवनी, 16 मई। जिले के 645 ग्राम पंचायतों के ग्रामवार क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की सक्रियता से ग्रामों में कोरोना कर्फ्यू का प्रभावी क्रियान्वयन किया जा रहा हैं। जिलें के प्रत्येक ग्राम की सीमा को सील कर दिया गया हैं और बाहरी व्यक्तियों का ग्राम में प्रवेश प्रतिबंधित कर दिया गया हैं।
कलेक्टर कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार कोरोना संक्रमण रोकथाम के दिशा में जिला प्रशासन के सकारात्मक प्रयास लगातार जारी हैं। ग्रामों को संक्रमण मुक्त करने के लिए कलेक्टर डॉ. राहुल हरिदास फटिंग के निर्देशन में ग्रामवार क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप का गठन किया गया हैं। जिसमें ग्राम स्तर के मैदानी अमले के साथ स्थानीय जनप्रतिनिधियों, ग्राम के गणमान्य नागरिकों को शामिल कर ग्राम को संक्रमण मुक्त करने के लिए स्थानीय स्तर पर ही निर्णय लेकर कार्यवाही सुनिश्चित की जा रही हैं। ग्रामवार क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की सक्रियता से ग्रामों में कोरोना कर्फ्यू का प्रभावी क्रियान्वयन किया जा रहा हैं। जिलें के प्रत्येक ग्राम की सीमा को सील कर दिया गया हैं, बाहरी व्यक्तियों का ग्राम में प्रवेश प्रतिबंधित कर दिया गया हैं। इसी तरह किल कोरोना अभियान का भी बेहतर क्रियान्वयन कर प्रत्येक व्यक्ति का स्वास्थ्य परीक्षण कर सर्दी, खांसी, बुखार के लक्षण वाले संदिग्ध कोरोना मरीजों को चिन्हांकित कर उन्हें होम आइसोलेट करते हुए तत्काल मेडिकल किट उपलब्ध कराई जा रही है।
आगे बताया गया कि ऐसे संदिग्ध व्यक्ति जिनके घरों में आइसोलेशन की व्यवस्था नहीं है,उन्हें ग्राम पंचायत के शासकीय भवन में बनाए गए सर्वसुविधायुक्त संस्थागत क्वॉरेंटाइन सेंटर में रखकर सतत मॉनिटरिंग की जा रही है यह क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप कोविड वैक्सीनेशन को लेकर जनजागरूकता गतिविधियों मे भी सकारात्मक भूमिका निभा रहें हैं।


हिन्दुस्थान संवाद