भोपाल, 28 जून । मध्य प्रदेश में फिलहाल स्कूल नहीं खुलेंगे। सोमवार को सीएम शिवराज की मंत्री समूहों की हुई बैठक में स्कूल नहीं खोलने का फैसला लिया गया है। मंत्री समूहों के साथ हुई चर्चा में टीकाकरण, शिक्षण संस्थानों के संचालन, कोरोना कर्फ्यू को खत्म करने संबंधित अन्य मुद्दों पर भी बात हुई। मंत्री समूह अपनी रिपोर्ट सीएम के सामने पेश किया। स्कूल खोलने को लेकर हुए चर्चा में फिलहाल स्कूल और शिक्षण संस्थान नहीं खोलने का फैसला लिया गया।

बैठक में ऑनलाइन और टीवी के माध्यम से ही पढ़ाई कराए जाने पर चर्चा हुई। वाट्सएप के माध्यम से पाठ्य पुस्तक के आधार पर वर्कशीट उपलब्ध कराई जाने पर चर्चा हुई। स्कूल खोलने के महत्वपूर्ण निर्णय के संबंध में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अन्य राज्यों के मुख्यमंत्रियों से चर्चा करेंगे। मुख्यमंत्री, स्कूल शिक्षा से सम्बंधित केंद्रीय मंत्रियों से भी स्कूल खोलने के सम्बंध में चर्चा करेंगे। अधिकारी विशेषज्ञों से चर्चा की जाएगी। सबसे सलाह करने के बाद ही प्रदेश में स्कूल खोलने का निर्णय लिया जाएगा। अभी प्रदेश में 1 जुलाई से स्कूल नहीं खुलेंगे, बच्चों को कोरोना की संभावित तीसरी लहर से बचाने के लिए निर्णय लिया गया। वहीं शिक्षण संस्थानों के शुरू करने के लिए 100 टीकाकरण जरूरी की बात पर जोर दिया गया है। इसके अनुसार बीएएमएस, बीएचएमएस, बीयूएमएस की समस्त परीक्षाएं पर भी विचार किया गया।

हिन्दुस्थान संवाद