सिवनी, 28 अप्रैल। प्रदेश में संक्रमण की रफ्तार में कमी आई है। प्रदेश और देश के अन्य क्षेत्रों के अनुभव ने सिखाया है कि जहाँ भी जनता कर्फ्यू का कड़ाई से पालन किया गया, वहाँ पर संक्रमण में कमी आई है। उन्होंने जन-प्रतिनिधियों से कहा कि वे आगामी 10 दिन तक पूरी कड़ाई से जनता कर्फ्यू को लागू करने के लिये आमजन का नेतृत्व करें। उक्ताशय की बात बुधवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा कोविड-19 की रोकथाम एवं व्यवस्थाओं के संबंध में कोर ग्रुप के साथ समीक्षा बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम कही गई है।
सिवनी कलेक्टर डाॅ.राहुल हरिदास फांटिग ने बुधवार की शाम को जानकारी दी कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान ने कहा है कि प्रदेश के सभी संभागीय मुख्यालयों में बड़े ऑक्सीजन प्लांट लगाये जायें। अधिकारियों को इस संबंध में शीघ्र कार्यवाही करने के निर्देश दिये।


मुख्यमंत्री चौहान ने जनप्रतिनिधियों से कहा कि वैक्सीनेशन कार्य को नियोजित ढंग से किये जाने के लिये 18 वर्ष से अधिक उम्र के व्यक्तियों की संख्या और प्रतिदिन वैक्सीनेशन डोज की उपलब्धता के आधार पर टीकाकरण का कार्यक्रम प्रारूप तैयार करने के निर्देश दिये। 45 वर्ष से अधिक उम्र वाले व्यक्तियों, स्वास्थ्य कर्मचारियों और फ्रंटलाइन वर्कर के वैक्सीनेशन के कार्य की गति कम नहीं हो। अस्पतालों के अतिरिक्त अन्य स्थानों पर वैक्सीनेशन केन्द्रों की स्थापना की संभावनाओं को तलाशने के निर्देश दिये। प्रदेश में स्वास्थ्य की बुनियादी सुविधाओं को और अधिक मजबूत बनाने के लिये आगामी बजट में बड़ी राशि का प्रावधान किया जायेगा।
बैठक में सांसद बालाघाट ढाल सिंह बिसेन, विधायक केवलारी राकेश पाल सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष आलोक दुबे, कलेक्टर डॉ राहुल हरिदास फटिंग, पुलिस अधीक्षक कुमार प्रतीक, अपर कलेक्टर मूलचंद वर्मा और अधिकारी ऑनलाइन शामिल हुए।
हिन्दुस्थान संवाद