सिवनी 19 मई। जिले के धनौरा विकासखंड के कन्या माध्यमिक शाला धनौरा में बुधवार को स्थापित कोविड टीकाकरण केंद्र पर सर्वप्रथम ग्राम पिंद्रबोडी के 30 वर्षीय गंगाराम को कोविड टीका लगाकर विकासखंड स्तरीय 18 वर्ष से 44 वर्ष की आयु के लोगो का टीकाकरण प्रारंभ किया गया।
खंड चिकित्सा अधिकारी डाॅ. आर. जे प्रसाद ने बुधवार की शाम को जानकारी दी कि बुधवार से 18 से 44 वर्ष उम्र के लोगो का टीकाकरण करने का लक्ष्य 100 के विरूद्व 69 लोगो का टीकाकरण किया गया। टीकाकरण के बाद सभी लाभार्थियों को 30 मिनट तक आब्जर्वेशन में रखा गया। किसी भी लाभार्थी को कोई विपरीत प्रतिक्रिया परिलक्षित नही हुई साथ ही समस्त लाभार्थियों को टीकाकरण पश्चात अपनाए जाने वाले कोविड प्रोटोकाॅल जैसे नियमित मास्क लगाना, आपस में 2 गज की दूरी, समय-समय पर साबुन पानी, सेनेटाईजर से हाथ की सफाई, पौष्टिक आहार लेना, अनावश्यक घर से बाहर न निकलना तथा कोविड के प्रारंभिक लक्षण दिखाई देने पर तत्काल नजदीकी स्वास्थ्य कार्यकर्ता, चिकित्सक अथवा स्वास्थ्य संस्था से सम्पर्क कर औषधि किट प्राप्त करते हुए घर पर ही 14 दिन के लिए क्वारेंटाईन रहकर अपना उपचार करने की सलाह दी गई।

उन्होने बताया कि कोविन पोर्टल तथा आरोग्य सेतु एप के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्र के लोगो को स्लाॅट बुक करने में थोड़ी परेशानी का सामना करना पड़ा। पंजीयन की प्रक्रिया सहज बनाने हेतु लोगो को समझाइश दी जा रही है ताकि आगामी टीकाकरण सत्र में अधिक से अधिक लोग अपना टीकाकरण करा सके।

    टीकाकरण के अवसर पर खंड चिकित्सा अधिकारी डाॅ. आर.जे.प्रसाद, बीईई टी.एल.उइके, सीएचओ प्रज्ञा गोल्हानी, यूआईपी प्रभारी बी.एच.करयाम, एएनएम कोरेती तथा जागरूक सामाजिक स्वास्थ्य कार्यकर्ता रामकुमार नायक आदि उपस्थित थे। 

हिन्दुस्थान संवाद