सिवनी, 12 नवंबर  ।  अपना घर सबकी मूलभूत आवश्यकता है जिसे व्यक्ति जब तक संभव हो पूर्ण करने का प्रयास करता है । लेकिन वे लोग जो गरीबी रेखा के नीचे जीवन-यापन कर रहें हैं, उनके लिए अपना पक्का मकान बनाना संभव ही नहीं है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने देशवासियों की इस समस्या को दूर करने के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना को साकार करने के लिए मध्यप्रदेश सरकार प्रतिबद्ध है।

      इन्ही में से एक है सिवनी जिले के कुरई विकासखण्ड अंतर्गत ग्राम पंचायत मोहगांव सड़क के ग्राम करहैया गाँव में रहने वाली हैं सीता बाई जो कि परित्यक्ता है तथा अपनी बुजुर्ग माँ के साथ रहती है एवं अपनी माँ का भी भरण पोषण करती है। पहले सीता बाई यादव का एक कमरे का कच्चा घर था, छत पर कच्चे कवेलू होने के कारण बारिश में -पानी टपकता था। जिससे पूरा घर गीला हो जाता था जिससे बहुत ही समस्यायें रहती थी। सीता बाई ने बताया की बरसात में हम बड़े मुश्किल से दिन निकालते थे। हर संभव डर बना रहता था कि कोई गीले में से को जीव जंतु न निकल आये। कई बार मन में आता था कि अपना भी एक अच्छा पक्का घर बन जाए। पर ऐसा सोचने में डर लगता था। प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण ने सीता बाई के असंभव स्वप्न को संभव किया। योजना के तहत सीता बाई का सूची में नाम शामिल हो गया। सीता बाई को पंचायत से इसकी जानकारी प्राप्त हुई। आवेदन देने के बाद सर्वे के उपरांत सीता बाई को चार किश्तों में आवास निर्माण के लिए राशि एवं मनरेगा योजना अंतर्गत मजदुरी की राशि प्राप्त हुई। सीता बाई मुस्कुराकर कहती है, अब हमारे दुःख के दिन दूर हो गये है। हमारे पास अपना पक्का मकान भी है। हमारी तरफ से सरकार को धन्यवाद। हमारा परिवार अब खुशहाली में जीवनयापन कर रहा है।  

हिन्दुस्थान संवाद   

error: Content is protected !!