सिवनी, 12नंवबर। घर एक ऐसी मूलभूत आवश्यकता है जो हर व्यक्ति का सपना होता है, लेकिन गरीब के लिए अपना पक्का मकान बनाना संभव नहीं है। प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के शुभारंभ होने से आज गरीब का सपना पूरा हो पाया है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने देशवासियों के लिए पक्का मकान बनाने का सपने को साकार किया है।

  रामदुलारी परते जो कि ग्राम मोहगांव ग्राम पंचायत मोहगांव सड़क विकासखण्ड कुरई की निवासी है। जिनका सपना आज पक्का आवास मिलने से साकार हुआ है। रामदुलारी अपना जीवन यापन मनरेगा योजना में मजदूरी कार्य से जो पैसा प्राप्त होता है उससे करती है। एक गरीब विधवा महिला के लिए अपना पक्का आवास बनाना एक स्पप्न की तरह है। रामदुलारी बाई का एक कमरे का कच्चा आवास था, छत पर कच्चे कवेलू होने के कारण बारिश में घर में पानी टपकने से पूरा घर गीला हो जाता था जिससे बहुत सी समस्याओं का सामना करना पड़ता था। रामदुलारी ने बताया की बरसात में हम बडे मुश्किल से दिन निकालते थे। हर संभव डर बना रहता था कि कोई गीले में से को जीव जंतु न निकल आये। कई बार विचार आता था कि हमारा खुद का भी एक अच्छा पक्का घर बन जाए। पर ऐसा सोचने में डर लगता था। रामदुलारी का असंभव स्वप्न प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण से संभव हो पाया। इस योजना के तहत रामदुलारी का सूची में नाम शामिल हो गया। रामदुलारी को पंचायत से इसकी जानकारी प्राप्त हुई। आवेदन देने के बाद सर्वे के उपरांत रामदुलारी को चार किश्तों में आवास निर्माण के लिए राशि एवं मनरेगा योजना अंतर्गत मजदुरी की राशि प्राप्त हुई। रामदुलारी मुस्कुराकर कहती है, अब हमारे दुःख के दिन दूर हो गये है। हमारे पास अपना पक्का मकान भी है। हमारी तरफ से सरकार को धन्यवाद। हमारा परिवार अब खुशहाली में जीवनयापन कर रहा है।  

हिन्दुस्थान संवाद

error: Content is protected !!