पीओएस मशीन से पुलिस करेगी चालान वसूली : एडीजी श्री जनार्दन

पुलिस और स्टेट बैंक ऑफ इण्डिया के बीच साइन हुआ एमओयू

भोपाल, 26 अप्रैल। यातायात नियमों के उल्लंघनकर्ताओं से पीओएस (पाइंट ऑफ सेल) मशीन से चालान वसूली होगी। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक पीटीआरआई श्री जी. जनार्दन ने जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस और स्टेट बैंक ऑफ इण्डिया के मध्य पीओएस मशीनें प्रदान करने के लिये गत दिवस एमओयू पर हस्ताक्षर हुए हैं। उन्होंने बताया कि इससे चालानी कार्यवाही में गति आयेगी। एक सप्ताह में 4 अन्य बैंकों के साथ भी एमओयू साइन होंगे।

एडीजी श्री जनार्दन ने बताया कि बैंकों को मशीनें प्रदान करने के लिये कार्य क्षेत्र आवंटित कर दिये हैं। स्टेट बैंक ऑफ इण्डिया को भोपाल संभाग के 4 जिलों के अतिरिक्त पुलिस कमिश्नरेट और सागर संभाग के 6 जिले आवंटित किये हैं। बैंक द्वारा 300 पीओएस मशीनें दी जायेंगी। इसके साथ ही4 अन्य बैंकों द्वारा भी एक सप्ताह में एमओयू साइन किये जाकर 1500 पीओएस मशीनें प्रदान की जायेंगी। श्री जनार्दन ने बताया कि यूजर फ्रेण्डली पीओएस मशीनों के उपयोग के लिये जिलों के अधिकारियों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। इससे पुलिस कर्मी चालान वसूली का कार्य बेहतर तरीके से कर सकेंगे। उल्लंघनकर्ताओं से वसूली भी त्वरित की जा सकेगी। बैंक के अधिकारी तथा तकनीकी विशेषज्ञों द्वारा एनआईसी के साथ मिलकर जिला मुख्यालयों पर पीओएस मशीन संचालन संबंधी प्रशिक्षण दिये जायेंगे।

सोमवार को हुए एमओयू हस्ताक्षर में श्री अनुराग भार्गव डीजीएम, श्री विजय कटारिया एडीजी (कल्याण), श्री डी. श्रीनिवास राव एडीजी (प्रशासन), श्री अनिल कुमार एडीजी (योजना एवं प्रबंध), श्री चंचल शेखर एडीजी (एससीआरबी), श्री विवेक शर्मा आईजी (प्रशासन), श्री मनोज राय एआईजी (पीटीआरआई), श्री स्वदेश श्रीवास्तव जीएम (एनआईसी) सहित बैंक एवं पुलिस के अधिकारी उपस्थित थे।

हिन्दुस्थान संवाद

follow hindusthan samvad on :
error: Content is protected !!