भोपाल, सिवनी, 07 मई। कोरोना महामारी एक राष्ट्रव्यापी संकट है। इस संकट से मुकाबले के लिए हमारी सरकारें जी जान से प्रयास कर रही हैं। सरकार के इस काम में हमारे संगठन को भी पूरे समन्वय के साथ अपनी सहभागिता निभाना है। पार्टी के कार्यकर्ता पूरी सतर्कता, संवेदनशीलता और सकारात्मकता के साथ इस काम को करें और पीड़ितों तक संकट के इस दौर में सहायता पहुंचाएं। सेवा ही संगठन अभियान-2 कोई कर्मकांड नहीं है, बल्कि यह बहुत बड़ी सेवा है लोगों की जिंदगी बचाने की। जब हम समय पर सर्वे करके दवाई दे देंगे तो आप किसी की जिंदगी बचाने में योगदान करेंगे और लोग पार्टी कार्यकर्ताओं के इस योगदान को कभी भूलेंगे नहीं। इसलिए साथ जाकर सर्वे कराइये, दवाई दिलवाईये स्थित खराब होने पर कोविड सेंटर और अस्पताल में भर्ती कराइये। इस सर्वे से 95 प्रतिशत लोग वहीं ठीक हो जायेंगे और जो 5 प्रतिशत लोग हैं उन्हें कोविड केयर सेंटर और अस्पताल भेजने का काम किया जायेगा।

उक्ताशय की बात मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान , प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा एवं संगठन महामंत्री सुहास भगत ने आज सेवा ही संगठन अभियान-2 को लेकर आयोजित बैठक को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए संबोधित करते हुए कही। बैठक में सभी जिलों के प्रभारी मंत्री, सिवनी भाजपा जिलाध्यक्ष आलोक दुबे सहित प्रदेश के सभी जिला अध्यक्ष, सांसद, विधायक सहित पार्टी नेता व जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।
भाजपा जिलाध्यक्ष आलोक दुबे द्वारा बताया गया कि इस वर्चुअल बैठक को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि पार्टी के कार्यकर्ता अपनी जान जोखिम में डालकर सेवा के इस अभियान में जुटे हैं, लेकिन इस अभियान को एक दिशा देने की आवश्यकता है। कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए सरकार और संगठन को मिलकर जिला, ब्लाक और गांवों के स्तर तक काम करना होगा। इसके लिए क्राइसेस मैनेजमेंट ग्रुप की टीमों में योग्य कार्यकर्ताओं को शामिल किया जाएगा तथा शासकीय समितियों में संगठन की भी सहभागिता रहेगी। ये समितियां सुनिश्चित करेंगी कि गांवों से न कोई बाहर जाए, न बिना स्क्रीनिंग के अंदर आए।


मुख्यमंत्री ने कहा कि, समर्थन मूल्य पर गेंहूं की बची हुई खरीदी गांवों में ही की जाएगी और जिन गांवों में संक्रमण ज्यादा है, वहां एक महीने के लिए मनरेगा के काम भी रोके जाएंगे। प्रत्येक पंचायत में क्वारंटाइन सेंटर बनाये गये हैं जिसमें पीड़ित परिवारों को अनुरोध करके भेजिए, जहां भोजन, चाय और नाश्ते की व्यवस्था की जायेगी एवं दवाई का किट भी मुफ्त में दिया जायेगा। पार्टी कार्यकर्ता सरकारी टीम के साथ मिलकर मेडिकल किट मरीजों को बंटवाएं। गंभीर मरीजों को कोविड केयर सेंटर ले जायें और जरूरत होने पर अस्पताल में भर्ती करने में मदद करें।

चौहान  ने कहा कि किल कोरोना अभियान के तहत सर्वे के लिए सरकारी टीम घर-घर जाएगी। पार्टी कार्यकर्ता इस टीम के साथ सहभागिता करें। दवा बांटने में सहयोग करें, ताकि संक्रमण को प्राथमिक स्तर पर ही रोका जा सके।
मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारे कार्यकर्ताओं ने कोविड केयर सेंटर बनाये हैं, किंतु लोगों का डर दूर करके उन्हें इन सेंटरों तक पहुंचाने की जरूरत है, जिससे खाली बेडों का उपयोग होगा, परिवार की सुरक्षा होगी एवं मरीज की जान बचेगी। केवल इतना कार्य करने से ही पीड़ित मानवता की बड़ी सेवा होगी।

इस वर्चुअल बैठक के दौरान प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने बैठक में उन सभी दिवंगत कार्यकर्ताओं को श्रद्धांजलि अर्पित की, जो हाल ही में कोरोना के शिकार बने हैं। शर्मा ने कहा कि कोरोना के कारण सारा देश परेशान है और हमारे कार्यकर्ता भी पीड़ित हैं। लेकिन हमारे केंद्रीय नेतृत्व ने सेवा ही संगठन अभियान-2 की जो जिम्मेदारी हमें सौंपी है, उसे हमें पूरी सतर्कता और सकारात्मक माइंड सेटअप के साथ निभाना है। हमें अपने कार्यकर्ताओं की चिंता भी करना है और पीड़ितों को राहत भी पहुंचाना है।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि कोरोना महामारी से मुकाबले के लिए हमारी सरकार जी जान से प्रयास कर रही है। हाल ही में मुख्यमंत्री ने स्ट्रीट वेंडर्स और किसानों के खातों में राशि डाली है। हमें इस प्रयास को इस तरह से समाज तक पहुंचाना है कि समाज में एक सकारात्मक संदेश जाए। सरकार किल कोरोना अभियान चला रही है, जिसमें हमें सरकारी तंत्र के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम करना है। पीड़ितों को दवाएं, राशन आदि वितरण के काम में निचले स्तर तक हमें अपनी सहभागिता दिखाना है।

शर्मा ने कहा विपत्ति के इस समय में भी कुछ लोग वातावरण खराब करने का प्रयास कर रहे हैं, लेकिन हमें पीड़ितों की सहायता करके, राहत और सहायता के काम में संगठन की सहभागिता करके लोगों का विश्वास जीतना है। हमारी सरकार कोरोना संकट की समाप्ति के लिए 18 वर्ष से अधिक आयु वालों को मुफ्ट वेक्सीनेशन करा रही है, लेकिन आपूर्ति कम होने के कारण वेक्सीनेशन धीरे-धीरे होगा। कुछ लोग इस मुद्दे पर भी लोगों को भ्रमित करने का काम कर रहे हैं, लेकिन जनता तक वास्तविकता को पहुंचाकर हमें वातावरण को सकारात्मक बनाना है।

बैठक को संबोधित करते हुए संगठन महामंत्री सुहास भगत ने कहा सेवा ही संगठन अभियान-2 को गति देते हुए हमें मदद के लिए पीड़ितों तक पहुंचना है। इसके लिए हमारे कार्यकर्ता शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में पूरी सतर्कता और संवेदनशीलता के साथ सर्वे करें। घर-घर सर्वे में हमें यह देखना होगा कि कहीं किसी घर में कोई अकेला बुजुर्ग तो नहीं है, जो बीमार हो। कोई बुजुर्ग दंपत्ति तो नहीं, जो कहीं आने-जाने में असमर्थ हों। कहीं कोई ऐसा एकल परिवार तो नहीं, जहां कोई किसी की सहायता करने वाला न हो। कहीं किसी परिवार में किसी की मृत्यु तो नहीं हो गई, कहीं किसी को अपने परिजन के अंतिम संस्कार में समस्या तो नहीं आ रही, इन सब बातों का पता लगाकर हमें पीड़ितों तक सहायता पहुंचाना होगा।

भगत ने कहा कि कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए हमें गांवों में इसके संक्रमण की चेन तोड़ना होगी। इसलिए ग्रामीण क्षेत्र में सर्वे के दौरान यदि किसी व्यक्ति में सर्दी-खांसी जैसे हल्के लक्षण दिखाई देते हैं, तो उसे दवा की किट दें। कोई संदिग्ध हो, तो उसे परिवार से हटाकर केयर सेंटर पहुंचाएं। इसके साथ ही हम अस्पतालों में भर्ती मरीजों के परिजनों के लिए भोजन की व्यवस्था भी करना है, इसकी चिंता पार्टी के कार्यकर्ता करें।

हिन्दुस्थान संवाद

error: Content is protected !!