नवग्रहों की शांति के लिये है व्यवस्था, मांगलिक कार्य भी होते है आयोजित
सिवनी, 06 जून। जिला मुख्यालय से नागपुर जाने वाले मार्ग पर लगभग 8 किमी दूर नेशनल हाइवे के नजदीकी स्थित वीरान पलारी टेकरी की रंगत चंद सालों में सेवा भाव से बदल गई है। बड़े-बड़े पत्थर व लाल मिट्टी की वीरान पहाड़ी में अब चारो ओर हरियाली ही हरियाली नजर आती है। यहां स्थापित शनिदेव की स्वयंभू मूर्ति के दर्शन करने दूर-दूर से श्रद्धालु पहुंचते है। स्वयंभू शनिदेव के दर्शन और पूजन से श्रद्धालुओं के कष्ट दूर हो जाते हैं। यहां पहुंचकर ताजी आबोहवा में लोग सुखद अनुभूति करते हैं। कोरोना महामारी के चलते फिलहाल यहां श्रद्धालु नहीं पहुंच रहे हैं। साल 2008 में शनिधाम ट्रस्ट की स्थापना कर पहाड़ी पर विकास कार्यो की नींव रखी गई थी, जो धार्मिक स्थल के साथ पर्यटन क्षेत्र बनने की दिशा में आगे बढ़ रहा है।


क्रम बद्ध तरीके से कराए विकास कार्य
शनिधाम ट्रस्ट के उपाध्यक्ष संतोष अग्रवाल ने बताया कि इस धार्मिक स्थल पर पर्यावरण संरक्षण की दिशा में कई अनूठे कार्य कराए गए हैं। करीब 23 एकड़ में फैली पहाड़ी में लगातार 13 सालों से विभिन्न् योजनाओं व कार्यक्रमों के पौधारोपण कराया जा रहा है। इसका परिणाम है कि 2 हजार से ज्यादा फलदार व औषधीय पौधे 15 से 20 फिट उंचाई हासिल कर चुके हैं। नक्षत्र वाटिका 54 और नवग्रह वाटिका की स्थापना की गई है। यहां पर लोग पहुंचकर लोग दोषों की निवृत्ति का उपाय करते हैं।
पौधारोपण करने पहुंचते हैं लोग
ट्रस्ट के सचिव कमल अग्रवाल ने बताया कि जन्मदिन, शादी की सालगिराह अथवा पूर्वजों की याद में श्रद्धालु पलारी टेकरी पहुंचकर पौधारोपण करते हैं। ट्रस्ट इन पौधारोपण को संरक्षित कर रहा है। बीते कुछ सालों में कराए गए पौधारोपण से पूरी पहाड़ी में हरियाली बिखर गई है। बारिश के पानी को बहने से रोकने व भूजल बढ़ाने पूरी पहाड़ी पर कंटूर गड्ढे खोदे गए हैं।
सूर्योदय व सूर्यास्त का अनोखा नजारा
पलारी टेकरी के रमणीय वातावरण में पहुंचने वाले श्रद्धालुओं को सुबह सूर्योदय और शाम को सूर्यास्त का अदभुत नजारा देखने को मिलता है। यहां बच्चों व युवाओं के लिए झूले, मंगल भवन, सभा मंच सहित कई निर्माण कार्य ट्रस्ट द्वारा श्रद्धालुओं की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए कराए गए हैं। पहाड़ी के निचले हिस्से में एक बड़े तालाब का निर्माण कराया जा रहा है। वहीं मंदिर से स्कूल की ओर जाने मार्ग पर पक्की सड़क का निर्माण कार्य कराया जा रहा है।
पर्यटन स्थल बनाने भेजा प्रस्ताव
विधायक दिनेश राय मुनमुन की अनुशंसा पर कलेक्टर ने धार्मिक स्थल शनिधाम पलारी टेकरी को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने एक करोड़ रूपये की कार्ययोजना तैयार कर स्वीकृति के लिए भोपाल पर्यटन विभाग को भेजी है। जल्द ही इस कार्ययोजना को स्वीकृति मिलने की उम्मीद है।
बांस का होगा रोपण
22 एकड़ क्षेत्र में फैली पहाड़ी में वर्तमान स्थिति में विभिन्न प्रजाति के 5 हजार पौधे हरे-भरे है, जिसे वृक्ष में तब्दील करने के लिये ट्रस्ट के माध्यम से पानी उपलब्ध करवाया जाता है, इसके अलावा नियुक्त कर्मी प्रतिदिन पौधों की सेहत पर भी नजर रखते है। 5 जून को विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर हुये आयोजन के दौरान ट्रस्ट के उपाध्यक्ष द्वारा मुख्य वनसरंक्षक वनवृत आर.एस.कोरी से निवेदन किया गया है कि वन विभाग के माध्यम से पहाड़ी के चारों ओर बांस का रोपण किया जाये तो यह स्थल और मनोरम व सुरक्षित हो जायेगा। जिस पर उनके द्वारा आश्वासन दिया गया कि जल्द ही स्थल निरीक्षण कर वन विभाग के माध्यम से रोपण कार्य आरंभ कर दिया जायेगा।
विधायक मुनमुन का रहता है सहयोग
इस सुनसान पहाड़ी को ऑक्सीजन जोन के रूप में तब्दील करने के लिये विधायक दिनेश राय मुनमुन द्वारा निधि से राशि प्रदान की जा रही है, इससे पूर्व यहां मंगल भवन, सभामंच एवं हवन स्थल का निर्माण हो चुका है, अब पुनः विधायक निधि से ही मुनमुन राय द्वारा शनिधाम पलारी के विकास हेतु 5 लाख रूपये की राशि देने की स्वीकृति प्रदान की गई है, जिसका उपयोग पौधारोपण व उसके संरक्षण में किया जायेगा।

हिन्दुस्थान संवाद