सिवनी 17 जून। जिला चिकित्सालय सिवनी में आया के पद पर पदस्थ श्रीमति श्यामा बाई बघेल ने कोरोना काल में एएनसी क्लीनिक में सराहनीय योगदान दिया है।


श्रीमति श्यामा बाई बघेल ने बताया कि कोविड काल के दौरान उन्होनें एएनसी क्लीनिक मे कार्य किया जहां बहुत गर्भवती, धात्री एवं अन्य महिलाएं जांच एवं उपचार के लिए आती थी। उनमें से कई महिलाएं कोविड पॉजिटिव भी थी। इनके बीच में अपने आप को कोविड से बचाते हुए कार्य करना कठिन था। फिर भी उन्होनें अपने इंचार्ज सिस्टर के मार्गदर्शन में मरीजो की उचित देखभाल की।
इस दौरान आया श्रीमति श्यामा बाई बघेल द्वारा मरीजो के साथ सुहानूभूति पूर्वक व्यवहार करते हुए विपरीत परिस्थितियों में कार्य किया गया। इस कठिन कार्य को उन्होने सहजता से करते हुये अपने परिवार के साथ भी लंबे समय से दूरी बनाई रखी। परिवार की सुरक्षा का ध्यान रखते हुए सारे प्रोटोकॉल का पालन किया तथा घर के सदस्यों से अलग रहकर एएनसी क्लीनिक में सेवायें प्रदान की।
श्रीमति श्यामा बाई बघेल ने चर्चा के दौरान बताया कि बीपी, शुगर की मरीज होते हुए भी मैने एएनसी क्लीनिक में बिना भय के कार्य किया। इस दौरान मेरे दोनो बेटे भी बीमार हो गए थे, किेंतु मैने आत्मविश्वास नही खोया तथा संयम रखते हुए उनका उपचार कराया एवं बिना अवकाश के लगातार अपनी ड्यूटी करते रही।
उन्होनें कहा कि मुझे इस बात का गर्व है कि महामारी के दौरान सेवा करने का मौका मिला। भविष्य में भी मुझे विषम परिस्थिति में सेवा का अवसर मिले तो मै पीछे नही हंटूगी और पूरी निष्ठा से कार्य संपादित करूंगी।
हिन्दुस्थान संवाद