भोपाल, 19 मई। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक पुलिस प्रशिक्षण एवं शोध संस्थान श्री डी.सी. सागर ने जिलों को भारत सरकार के  आई.आर.ए.डी. में  सड़क दुर्घटनाओं संबंधी सभी प्रविष्टियाँ  सुनिश्चित करने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने बताया है कि  अभी मध्यप्रदेश दूसरे स्थान पर है। उन्होंने कहा कि जिले कोशिश करें, तो इस क्षेत्र में प्रदेश की पुलिस ध्वज वाहक बन सकती है।

एडीजी श्री सागर ने बताया कि आई.आर.ए.डी. एप के डाटा एंट्री की सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा सूक्ष्मता से परीक्षण किया जा रहा है। डाटा एंट्री में पिछड रहे गुना, दतिया, छतरपुर, मण्डला और अनूपपुर जिलों के पुलिस अधीक्षकों को सुधार के लिये  निर्देशित किया गया है। श्री सागर ने बताया है कि एप में अधिक से अधिक प्रविष्टियों से सड़क दुर्घटनाओं की मॉनिटरिंग बेहतर तरीके से की जाकर सड़क दुर्घटनाओं को रोकने में मदद मिलती है। उन्होंने कहा कि यदि हम शत-प्रतिशत सड़क दुर्घटनाओं की एप में प्रविष्टियाँ करेंगे, तो अधिकतम लोगों की जान-माल की सुरक्षा की जा सकेगी।

हिन्दुस्थान संवाद