महुआ बीनने गए ग्रामीणों पर तेंदुआ का हमला, तीन घायल

मंडला, 3 अप्रैल (हि.स.)। जिले के खटिया थाना क्षेत्र के टाटरी चौकी अंतर्गत रविवार सुबह महुआ बीनने गए तीन ग्रामीणों पर तेंदूआं ने हमला कर दिया। घायलों में दो महिला और एक पुरुष शामिल है। तीनों ने किसी तरह संघर्ष कर अपनी जान बचाई। तीनों को इलाज के लिए बम्हनी बंजर अस्पताल भर्ती कराया गया। जहां से उन्हें जिला अस्पताल के लिए रैफर किया गया है।

टाटरी चौकी प्रभारी आरके मात्रे ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि ग्राम पौंड़ी निवासी संताना बाई, अनिता साहू और देवेंद्र साहू रविवार सुबह गांव के पास ही पौड़ी भरवेली के बीच बुड़बुड़ी नाला के उपर फारेस्ट की झोपड़ी पास महुआ बीनने गए थे। महुआ बीनने के दौरान एक तेंदुआ आया और संताना बाई के उपर पीछे से हमला कर उसकी गर्दन पर पंजा मार कर गर्दन पकडऩे का प्रयास किया। अचानक हुए हमले के बाद भी महिला ने सूझबूझ दिखाते हुए हाथ में पकड़े महुआ एकत्रित करने वाले बर्तन को तेंदुआ के मुंह में उसे डाल दिया और अपने आप को बचाया। इसी दौरान पास में ही महुआ बीन रहे दंपत्ति देवेंद्र और अनिता साहू ने देखा तो आवाज दी। जिससे तेंदुआ भागा। लेकिन भागते समय उसने दोनों पर भी हमला किया। जिससे देवेंद्र के कूल्हे में और अनिता के दाहिने हाथ में उसके पंजेे मार दिया। बाघ के हमले में तीनों बुरी तरह से घायल हो गए।

घटना की जानकारी लगते ही ग्रामीण मौके पर पहुंचे और पुलिस को सूचना दी। चौकी प्रभारी सहित थाना स्टाफ पहुंचा और घायलों को इलाज के लिए बम्हनी बंजर अस्पताल भिजवाया गया। जहां उन्हें प्राथमिक उपचार दिया गया। इसके बाद घायलों को जिला अस्पताल मंडला रैफर किया गया है। बता दें कि घटना स्थल कान्हा टाइगर रिजर्व के जंगल से लगा हुआ है। जो कि बम्हनी बंजर परिक्षेत्र में आता है। इस क्षेत्र में बाघ सहित अन्य वन्य प्राणियों की आवाजाही होती रहती है।

इनपुट- हिन्दुस्थान समाचार/ नेहा पाण्डेय

follow hindusthan samvad on :
error: Content is protected !!