सिवनी, 10 मई। जिले में किल कोरोना अभियान के तहत स्वास्थ्य , राजस्व , महिला बाल विकास विभाग के संयुक्त अमले द्वारा प्रत्येक घर में दस्तक देकर सघन स्वास्थ्य सर्वे किया जा रहा है। और संदिग्ध मरीजों को चिन्हांकित कर उन्हें आवश्यक मेडिसिन किट उपलब्ध करवाते हुए उन्हें क्वॉरेंटाइन किया जा रहा हैं।
सिवनी कलेक्टर के सोशल मीडिया प्रभारी ने सोमवार को जानकारी दी कि कोरोना वायरस संक्रमण से रोकथाम को लेकर कलेक्टर डॉ राहुल हरिदास फटिंग के निर्देशन में किल कोरोना अभियान का जिले के ग्रामीण एवं नगरीय क्षेत्र में सघन क्रियान्वयन किया जा रहा है। जिला एवं खंड स्तर के साथ ही ग्राम स्तर में क्राइसिस मैनेजमेंट समिति के गठन करते हुई स्थानीय जनप्रतिनिधियों के समन्वय से स्थानीय स्तर में संक्रमण रोकथाम के लिए कार्यवाही की जा रही है। वही एएनएम,आशा कार्यकर्ता,आंगनवाड़ी कार्यकर्ता एवं सचिव, पटवारी एवं अन्य मैदानी अमले के दलों का गठन कर ग्राम में स्वास्थ्य सर्वे किया जा रहा हैं। जिसमें सर्दी, खासी, बुखार के संदिग्ध मरीजों को चिन्हांकित कर उन्हें आवश्यक मेडिसिन किट उपलब्ध करवाते हुए उन्हें क्वॉरेंटाइन किया जा रहा हैं।
आगे बताया कि ऐसे मरीज जिनके यहा क्वॉरेंटाइन की व्यवस्था नही हैं उनके लिए ग्राम के शासकीय भवनों में संस्थागत क्वॉरेंटाइन की व्यवस्था सुनिश्चित की गई हैं। इसी तरह नगरीय क्षेत्रों में कोविड सहायता केंद्र भी स्थापित किये गए हैं।
हिन्दुस्थान संवाद