खादी एवं ग्रामोद्योग 29 अप्रैल को मुम्बई में आयोजित करेगा फेशन-शो

प्रदेश के चंदेरी, महेश्वरी उत्पादों के साथ रैम्प पर उतरेगी बॉलीवुड सेलिब्रिटी
प्रदेश के बुनकरों को अंतर्राष्ट्रीय पहचान दिलाने का अभिनव प्रयास
फेशन-शो आयोजित करने वाला पहला प्रदेश

भोपाल, 26 अप्रैल। लोक निर्माण, कुटीर एवं ग्रामोद्योग मंत्री श्री गोपाल भार्गव ने कहा है कि मध्यप्रदेश की पारंपरिक हाथकरघा कलाओं को प्रमुखता प्रदान करने की दृष्टि से कुटीर एवं ग्रामोद्योग विभाग, मुम्बई में 29 अप्रैल 2022 को एक विशिष्ट फेशन-शो आयोजित करेगा। मध्यप्रदेश ऐसा आयोजन करने वाला देश का पहला प्रदेश है, जो राज्य में बने हाथकरघा और हस्तशिल्प उत्पादों के लिए मुम्बई में फेशन-शो आयोजित कर रहा है।

फेशन-शो में प्रदेश के फेशन डिजाइनर के उत्पादों के साथ बॉलिवुड के जाने-माने सेलिब्रिटी रेम्प पर उतरेंगे। मध्यप्रदेश की समृद्ध और विविध हाथकरघा धरोहर को प्रदर्शित करने का यह एक प्रभावी मंच रहेगा, जहाँ चंदेरी और महेश्वरी वस्त्र, समकालीन खादी डिज़ाइन्स, पारंपरिक सिल्क साड़ियाँ और बाघ, बाटिक तथा नांदना की देशज प्रिंट्स वाले मनमोहक परिधान तथा होम फर्निशिंग की एक वृहद उत्पाद श्रृंखला प्रस्तुत की जाएगी। हाथ की कारीगरी से बने ये सभी उत्पाद सदियों से चली आ रही डाईंग, ट्रीटिंग और ब्लॉक प्रिंट की तकनीक से निर्मित हैं, जिनका ज्ञान एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी तक प्रवाहित होता आया है। इस आयोजन से न केवल मध्यप्रदेश की बुनाई की पारंपरिक धरोहर सामने आएगी, अपितु राज्य के बुनकरों और कारीगरों को विपणन और निर्यात के नवीन अवसर भी मिलेंगे।

मंत्री श्री भार्गव ने बताया कि हम प्रोसेस्ड टेक्सटाइल के स्थान पर वर्षों पुरानी हाथकरघा की तकनीक को प्रोत्साहित करना चाहते हैं। यह हमारी “वोकल फॉर लोकल” पहल के अनुरूप है। प्रोसेस्ड फैब्रिक की तरफ घरेलू रूझान के कारण हाथकरघा के बुनकरों ने बहुत नुकसान उठाया है, जो लॉकडाउन के दौरान और बढ़ गया है। हम हाथकरघा को प्रोत्साहन देना चाहते हैं, जिससे इनसे जुड़े परिवार फिर से आत्म-निर्भर हो जायें और प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के “आत्म-निर्भर भारत” की पहल के अनुरूप जीवन-यापन कर सकें।

प्रदेश के डिजाइनर की डिजाइन्स होगी प्रदर्शित

फेशन-शो की ग्रांड ओपनिंग में मध्यप्रदेश के शीर्ष डिजाइनर्स मुमताज़ खॉन, साधना व्यास और फरहत मलिक की डिजाइन्स प्रदर्शित होगी। ग्रांड क्लोजिंग सेलिब्रिटी डिज़ाइनर अर्चना कोचर के फ्यूजन कलेक्शन “Malwa Melange” के साथ होगी, जो अपनी वैश्विक डिजाइनिंग संवेदनशीलताओं के लिए विख्यात हैं और जिन्हें “Galaries Lafayette पेरिस द्वारा उनके विशिष्ट कलेक्शन को प्रदर्शित करने के लिए आमंत्रित किया गया था।

फेशन-शो में एक कियोस्क स्पेस भी होगी, जिसमें मध्यप्रदेश की बुनाई और छापाकला (वीव्स एण्ड प्रिंट्स) बाघ, बाटिक और नांदना (तारापुर और नीमच से) प्रमुखता से प्रदर्शित की जायेगी। राष्ट्रीय डिज़ाइन संस्थान (एन.आई.डी.) भोपाल, मध्यप्रदेश के साथ सहभागी होगा और फेशन-शो में कियोस्क का प्रबंधन करेगा। राष्ट्रीय डिजाइन संस्थान के विद्यार्थियों द्वारा डिज़ाइनर्स के लिए शॉर्ट फिल्मस तैयार की गई हैं।

फेशन-शो 2022 में राज्य के प्रमुख टेक्सटाइल ब्राण्ड्स मृगनयनी, कबीरा (खादी) और प्राकृत हैण्ड योवन सिल्क की भी उपस्थिति रहेगी। यह बहुत गर्व का विषय है कि ये ब्राण्ड्स प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से बुनकरों, हाथकरघा से जुड़ी अन्य गतिविधियों के कारीगरों और उनके परिजन इस प्रकार लगभग 15 हजार से अधिक लोगों के जीवन पर सकारात्मक प्रभाव डाल रहे हैं। उन्हें सर्वश्रेष्ठ मार्केटिंग अवसर तथा प्लेटफार्मस् देश में स्थित 50 से अधिक मृगनयनी, कबीरा और खादी एम्पोरियम के माध्यम से उपलब्ध कराते हैं।

प्रमुख सचिव श्रीमती स्मिता भारद्वाज ने बताया कि खादी ग्रामोद्योग विभाग एक्सपोज़र उपलब्ध कराने और क्राफ्ट के विकास के उद्देश्य से समय-समय पर डिज़ाइन और प्रोडक्ट डेवलपमेंट वर्कशॉप्स का आयोजन करता है, जिससे कारीगर पारंपरिक डिज़ाइन और समकालीन आवश्यकता के वस्त्रों का सृजन कर सकें। आजादी के अमृत महोत्सव में विभिन्न आयोजन और थीम आधारित प्रदर्शनियाँ भी लगाई जा रही है। राष्ट्रीय हाथकरघा दिवस पर हैरिटेज साड़ियाँ और स्टोल का विमोचन किया गया है।

8 अक्टूबर 2022 को इंदौर में भी आयोजित होगा फेशन-शो

इसी प्रकार का एक फेशन-शो इन्दौर में 8 अक्टूबर 2022 को आयोजित किया जायेगा। हाथ करघा बुनकर फैशन डिज़ाइनर्स के साथ रैम्प वॉक करेंगे। वर्तमान डिज़ाइनर्स अपने कुछ परिधानों का विक्रय और ऑक्शन करेंगे और उससे प्राप्त धन राशि का उपयोग हाथकरघा बुनकरों के बच्चों के लिए किया जायेगा।

हाथकरघा को प्रोत्साहन देने के लिए युवाओं में जागरूकता लाने के लिए जून 2022 से एक कार्यक्रम प्रारंभ किया जायेगा। इनफ्लूऍसर्स का एक समूह 15 से 30 वर्ष के विद्यार्थियों और युवा प्रोफेशनल्स से इसमें भागीदारी करने और हाथकरघा फेब्रिक का उपयोग कर समकालीन फैशन लाइन का निर्माण करने के बारे में संवाद करेगा।

हिन्दुस्थान संवाद

follow hindusthan samvad on :
error: Content is protected !!