सिवनी, 23सितम्बर। जिले के कान्हीवाडा थाना अंतर्गत आने वाले ग्राम इंदावाडी के खेत और झाडियो के बीच में बीते 18 सितम्बर को मिले एक अज्ञात महिला के मिले शव की गुत्थी कान्हीवाडा पुलिस ने सुलझा ली है और गुरूवार को इस अंधे हत्याकांड का पर्दाफाश करते हुए चार आरोपित को गिरफ्तार कर जिला न्यायालय में पेश करने के बाद जेल भेज दिया है।


पुलिस के मीडिया अधिकारी देवेन्द्र जायसवाल ने गुरूवार की देर शाम को जानकारी दी कि सूचना मिलने कान्हीवाडा पुलिस 18 सितम्बर 21 को ग्राम ग्राम इंदावाडी पहुंची जहां ग्राम के खेत और झाडियो के बीच एक अज्ञात महिला का शव मिला था। जिस पर पुलिस ने मर्ग कायम कर जिला चिकित्सालय में शव का पोस्टमार्टम कराया गया। वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देश पर थाना प्रभारी कान्हीवाड़ा द्वारा थाना स्तर पर पुलिस टीम गठित कर अज्ञात मृतिका की शिनाख्तगी हेतु प्रयास प्रारम्भ किये गये। जिस पर 20 सितम्बर को मृतिका की पहचान कविता(21) पुत्री सुरेन्द्र बरकडे निवासी समतपुरी थाना तिरोडी जिला बालाघाट के रूप में हुई। मृतिका के परिजन को शव सुपुर्द कर प्रथम दृष्टया मर्ग जांच में हत्या का अपराध घटित होना पाए जाने से अज्ञात आरोपियों के विरुध्द भादवि की धारा 302.201 का प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।


विवेचना के दौरान मृतिका के मामा की लडकी साक्षी निवासी ग्राम चोरी पिडकेपार थाना तिरोडी बालाघाट ने बताया कि 17 सितम्बर की रात में सतेन्द्र भलावी निवासी बेलगांव थाना डूंडासिवनी ने जान से मारने की नियत से उसका घोटा लेकिन जैसे तैसे वह बच गयी और सतेन्द्र भलावी दोस्त संतोष कुमरे ने उसके साथ छेड़छाड़ की। सतेन्द्र ने पूर्व में शादी का प्रलोभन देकर उसके साथ शारीरिक संबंध बनाया जिससे उसे लगभग 7-8 माह का गर्भ हैं। जिस पर मृतिका के मामा की लड़की की रिपोर्ट पर धारा 354,307, 376 (2) (एन) भा.द.वि. का अपराध पंजीबध्द कर विवेचना में लिया गया।
बताया गया कि पुलिस को विवेचना के दौरान प्राप्त साक्ष्यों के आधार पर 22 सितम्बर को सत्येन्द्र (22) पुत्र देवीसिंह भलावी निवासी ग्राम बेलगांव (बम्होडी ) थाना डुण्डासिवनी,सोनू उर्फ राजकुमार (25) पुत्र शिवकुमार गोमेश्वर निवासी ग्राम मुण्डरई थाना कान्हीवाड़ा , मुकेश (22) पुत्र प्रसादी कुवैती निवासी ग्राम चुरनाटोला कान्हीवाड़ा ,संतोष (27)पुत्र दादूराम कुमरे निवासी ग्राम मुण्डरई थाना कान्हीवाड़ा को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई जहां आरोपित सतेन्द्र ने बताया कि उसने पहले गला घोंटकर मृतिका के मामा की लड़की की हत्या का प्रयास किया एवं उसे लगा कि वह मर गई है। मृतिका के मामा की लड़की के मरने की जानकारी कविता को हो जाएगी और कविता पुलिस में जाकर ये बता देगी की उसके मामा की लड़की की हत्या हो गई है इस बात को छिपाने के लिए उसने और उसके दोस्त सोनू ने कविता की गला घोंटकर हत्या कर दी।
बताया कि आरोपित सतेन्द्र और सोनू द्वारा मृतिका को चुनरी से गला घोटकर हत्या करने , शादी का प्रलोभन देकर शारीरिक संबंध बनाने , गला घोटकर मारने के बाद मृतिका के सामान छुपाने , आरोपित मुकेश को मृतिका के मोबाइल फोन छुपाने, आरोपित संतोष द्वारा मृतिका के मामा की लडकी के साथ छेडछाड करने के आरोपि में गिरफ्तार किया गया है।


पुलिस टीम ने आरोपितों के कब्जे से घटना में उपयोग की चुनरी जिससे मृतिका का गला दबाकर हत्या की गई थी तथा मोटर साईकिल एंव मृतिका के बैग मोबाईल फोन आदि अन्य सामग्री जो आरोपितों व्दारा छिपाकर रखा गया था जब्त कर आरोपितों को गुरूवार को गिरफ्तार कर जिला न्यायालय में पेश किया है।
हिन्दुस्थान संवाद