जबलपुर , 25 जुलाई।जिले की पुलिस ने शनिवार -रविवार की दरम्यिानी रात को क्रिकेट सट्टा खिलाते हुए एक सटोरिये को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से 7 मोबाईल, 1 लैपटाप, 1 केैलकुलेटर, एवं हिसाब किताब के रजिस्टर सहित नगद 15 हजार 610 रूपये जब्त किया है।
जबलपुर पुलिस ने रविवार की देर शाम को सोशल मीडिया में जानकारी सार्वजानिक करते हुए बताया कि पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.)’ द्वारा जिले मे पदस्थ समस्त राजपत्रित अधिकारियों एवं थाना प्रभारियों को संगठित जुआ, सट्टा खिलाने वालों को चिन्हित करते हुये उनके विरूद्ध प्रभावी कार्यवाही हेतु आदेशित किया गया है।


आदेश के परिपालन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर रोहित काशवानी (भा.पु.से.), एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर दक्षिण/अपराध गोपाल खाण्डेल तथा नगर पुलिस अधीक्षक कोतवाली दीपक मिश्रा के मार्गदर्शन में थाना कोतवाली एवं क्राईम बं्राच की टीम द्वारा क्रिकेट का सट्टा खिलाते 1 सटोरिये को रंगे हाथ पकडने मे सफलता प्राप्त हुई है।
थाना प्रभारी कोतवाली अनिल गुप्ता ने बताया कि शनिवार-रविवार की रात्रि में क्राईम ब्रांच को मुखबिर से सूचना मिली कि दहराई निवासी अर्पित जैन पिता सुनील जैन अपने घर के अंदर कमरे में क्रिकेट का सट्टा खिला रहा है सूचना पर क्राईम ब्रांच एवं थाना केातवाली की संयुक्त टीम द्वारा मुखबिर के बताये स्थान पर दबिस देते हुये अर्पित जैन के मकान के कमरे का दरवाजा खटखटाया तो एक व्यक्ति ने दरवाजा खोला, जिसने नाम पता पूछने पर अपना नाम अर्पित जैन उम्र 29 वर्ष निवासी कटरा वाला बड़ा सराफा दरहाई कोतवाली का रहने वाला बताया, जिसके चल रहे 100 बाल क्रिकेट टूर्नामेंट के नोटर्न एवं वारियर क्रिकेट टीम के मैच केा मोबाइल में देखकर मोबाइलों के माध्यम से रूपये पैसों का दाव लगवाकर तथा विभिन्न मोबाइल एवं सिम नम्बरों का उपयोग कर ग्राहकों से रूपये पैसों की हारजीत की बाजी लगवाकर खिलाड़ी द्वारा ओवर में रन बनाने एवं पारी में कुल रन बनाने, टीम की हारजीत पर क्रिकेट का सट्टा अवैध लाभ अर्जित करने के उददेश्य से खिलाते पाये जाने पर मौके से 1 लेपटाप एचपी कम्पनी का चार्जर सहित, 4 कीपेड मोबाइल, 3 एन्ड्रायड मोबाइल, एक कैल्कुलेटर, एक सट्टे के अंकों का रजिस्टर जिनमे विभिन्न अंक लिखे है, 3 नग सट्टे के हिसाब किताब की पर्ची एवं 1 बिजली का एक्सटेनसन बोर्ड, नगदी 15 हजार 610 रूपये जप्त करते हुये, आरोपी अर्पित जैन से पूछताछ की जिसने बताया कि स्वयं के द्वारा मोबाइल के माध्यम से ग्राहकों से सम्पर्क करते हुये क्रिकेट मैच पर अवैध लाभ अर्जित करने के लिये क्रिकेट का सट्टा खिलाने का काम करता है, रूपये पैसों का हिसाब किताब करते हुये दूसरे दिन ग्राहकों से सम्पर्क करते हुये रूपये पैसा नगद प्राप्त करता है बताया, आरोपी अर्पित जैन के विरूद्ध विरूद्ध धारा 4(क) , 3/4 जुआ एक्ट के तहत कार्यवाही की गयी।
आगे बताया गया कि क्रिकेट का सट्टा खिलाते हुये आरोपी को रंगे हाथ पकडने में उप निरीक्षक नरेश झारिया, सहायक उप निरीक्षक सुरेश कैथल, आरक्षक वीरेन्द्र, महेश एवं क्राईम ब्रंाच के सहायक उप निरीक्षक आर.पी.बर्मन, प्रधान आरक्षक राधेश्याम दुबे , आरक्षक ओमनारायण, आनंद तिवारी, मुकुल गौतम, रोहित द्विवेदी, अमीरचंद एवं सीएसपी कार्यालय के आरक्षक प्रमोद मिश्रा की सराहनीय भूमिका रही।
हिन्दुस्थान संवाद