भोपाल, 2़9 दिसंबर।संचालक राज्य शिक्षा केन्द्र भोपाल के माध्यम से शासकीय शालाओं में कक्षा 1 से 8 में अर्द्धवार्षिक परीक्षा (प्रतिभा पर्व) 2021-22 में कोविड-19 लॉकडाउन के कारण लंबे समय तक स्कूल बंद रहने के कारण विद्यार्थियों को हुए लर्निंग लॉस के दृष्टिगत रखते हुए समस्त शासकीय प्राथमिक एवं माध्यमिक विद्यालयों की कक्षा 1 से 8 में पाठ्यक्रम को पुनर्वियोजित करते हुए 60 प्रतिशत पाठ्यक्रम फेस-टू-फेस मोड में तथा 40 प्रतिशत पाठ्यक्रम होम असाइनमेन्ट/प्रोजेक्ट वर्क के रूप में पढ़ाने हेतु निर्देश दिए गए थे।

जिला परियोजना समन्वयक जिला शिक्षा केंद्र सिवनी ने बताया कि प्रतिभा पर्व 2021-22 मूल्यांकन 17 से 24 जनवरी 2022 की अवधि में किए जायेगा। एक दिवस में एक ही विषय का मूल्यांकन होगा। कक्षा 1, 2 के लिए मूल्यांकन पृथक से नहीं लिया जायेगा। कक्षा 1 व 2 के बच्चों का मूल्यांकन शालाओं को उपलब्ध कराई गई प्रयास वर्कबुक द्वारा तथा अभ्यास पुस्तिका के अंत में संलग्न ऑकलन वर्कशीट विषय हिन्दी, अंग्रेजी व गणित के आधार पर किया जायेगा। कक्षा 1 व 2 हेतु उर्दू विशिष्ठ विषय की आकलन वर्कशीट राज्य स्तर से जिले स्तर पर उपलब्ध कराई जायेगी। जिला स्तर से वास्तविक दर्ज संख्या के मान से मुद्रित वर्कशीट के कक्षावार विषयवार पैकेट एवं अन्य मूल्यांकन सामग्री बीआरसी व जनशिक्षक के माध्यम से शालाओं को 15 जनवरी 2021 के पूर्व उपलब्ध कराई जायेगी।
हिन्दुस्थान संवाद

error: Content is protected !!