आक्रोश में नागरिक किसानों के सहारे गैर संवैधानिक आयोजन की नई पंरपरा निंदनीय

सिवनी, 18 दिसंबर।भाजपा काँग्रेस के घोषणावीर अवसरवादी क्रेडीट के भूखें नेताओं से त्रस्त सिवनी की भोली भाली जनता ने जिस उम्मीद व विश्वास के साथ दिनेश राय को अपना नेता चुना था। आज वो दिनेश राय अब जनता के दुःख दर्द को भूल शुद्ध नेतागिरी में उतर आए है। जिनका लक्ष्य सिर्फ व सिर्फ नेतागिरी करते हुए जनमानस मानती है की अपार धन कमाना व उसको सहेजना रह गया है ।सिवनी विधानसभा क्षेत्र में गांवों में शराब की नदियां बह रही है परंतु मुनमुन भैया अब नेताजी बन गए है सब कुछ जानते समझते नजरअंदाज कर रहे है ।

उक्त आरोप शुक्रवार को जारी बयान में सँयुक्त किसान मोर्चा के जिला प्रवक्ता किसान संघर्ष समिति जबलपुर के संयोजक राजेश पटेल ने विगत दिनों मुनमुन राय के किसानों के सहारे लट्ठ के साथ नौकरशाहों से गैर संवैधानिक सम्मेलन किये जाने पर कही है।

राजेश पटेल ने कहां की गांवों में शराब की नदियां बह रही है कहाँ जाए तो अतिश्योक्ति नहीं होगी बगैर रिश्वत महीना दिए गाँवों में गैर कानूनी शराब का अवैध व्यवसाय धडल्ले से चल रहा है गाँवों में मुनमुन नेता जी को शराब प्रतियोगिता करवानी चाहिए।मुनमुन राय जी को नागरिक वोट देने से पहले इसी व्यवसाय से डर रहे थे किन्तु मुनमुन भैया ने इस संबंध में कई वादे व आश्वासन दिए थे।   जिन पर आज चुप्पी साधे हुये है युवा पीढ़ी बर्बाद हो रही है ।किसानों के साथ खाद बीज में हो रही लूट पर मुनमुन विधायक जी काला बाजारी रोकने में विफल है।सहकारी समितियों की हालात दिनों दिन खराब हो रही है। किसानों के डिफाल्टर होने से सहकारी समितियों से 50% से अधिक किसान लाभ से वंचित है। 4 बोरी खाद के लिए सहकारी समितियों का किसान सदस्य होने के बाबजूद किसानों की भूमि बंधक की जा रही है।और मुनमुन भैया किसानों से लट्ठ लेकर अधिकारियों को चमका कर गैरकानूनी नई परंपरा की शुरुआत कर रहे है जो शर्मनाक ही नही घोर निंदनीय है। तहसीलदार न्यायालय में हजारों नामांतरण के प्रकरण लंबित है कइयों दलाल सक्रिय है मजे कर रहे कानूनन जानकारी के अभाव में अवैध कालोनी में आवासीय भूखण्ड खरीदने वाले उपभोक्ताओं से ये दलाल अधिकारियों की साठ गाठ से 50 हजार तक की रकम वसूल कर नामांतरण करवाकर बही दिलवा रहे ।जिनके पास पहुँच पकड़ ओर सोर्स रिश्वत की व्यवस्था करने में सक्षम नहीं है उनका नामांतरण खारिज किये जा रहे है। उपपंजीयक कार्यालय  रजिस्ट्री पर 1000 रूपये अलग से वसूल रहा है। भोली भाली जनता जिसके टैक्स के पैसे से अधिकारी कर्मचारी मंत्री विधायक जनप्रतिनिधि सबको मोटी तनख्वाह वेतन भत्ते बंगला गाड़ी में लाखों खर्च हो रहे बाबजूद जिले में भ्रष्टाचार पर मुनमुन भैया लगाम लगाने सत्ता धारी दल के विधायक रहते हुए  नागरिकों को बेहतर प्रशानिक सेवाएं दिलवाने की वचनवद्धता निभाने के रास्ते से भटक कर चन्द चाटुकारों को खुश रखने सब कुछ जानते हुए कइयों मामलों को नजर अंदाज कर रहे है।

हिन्दुस्थान संवाद

error: Content is protected !!