सिवनी, 01 मार्च । कलेक्टर डॉ राहुल हरिदास फटिंग की अध्यक्षता में सोमवार 1 मार्च को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में समय सीमा बैठक आयोजित की गई। जिसमें अपर कलेक्टर श्री मूलचंद वर्मा, अपर कलेक्टर सुश्री सुनीता खण्डाईत, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत सिवनी श्री पार्थ जायसवाल सभी अनुविभागीय अधिकारी राजस्व तथा अन्य विभागों के जिला प्रमुखों की उपस्थिति रही।

       बैठक में कलेक्टर डॉ फटिंग ने समय सीमा में दर्ज प्रकरणों, सीएम कार्यालय से प्राप्त पत्रों के साथ पीजी पोर्टल की शिकायतों पर की गई कार्यवाही की विभागवार समीक्षा कर आवश्यक दिशा निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। उन्होंने सीएम हेल्पलाईन के प्रकरणों की विभागवार विस्तृत समीक्षा की। उन्होंने अधिकारियों को शिकायतों के गुणवत्तापूर्ण निराकरण के निर्देश देते हुए कहा कि दर्ज शिकायतों पर नियमानुसार कार्यवाही की जाए तथा की गई कार्यवाही से शिकायतकर्ता को अवगत कराने के साथ ही फॉलोअप दर्ज किए जाऐं। किसी भी स्थिति में भविष्यात्मक निराकरण दर्ज न किए जाएं। कलेक्टर डॉ फटिंग ओला वृष्टि प्रभावी ग्रामों में सर्वे की स्थिति तथा किए गए सर्वे के संबंध में कृषकों से आंमत्रित किए जा रहे दावे-आपत्ति की जानकारी प्राप्त कर आवश्यक दिशा निर्देश सभी अनुविभागीय अधिकारियों को दिए।

       कलेक्टर डॉ फटिंग ने कोविड वैक्सीनेशन को लेकर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी से वैक्सीनेशन के द्वितीय चरण अंतर्गत आज से प्रारंभ हो चुके 60 वर्ष से अधिक उम्र के व्यक्तियों के वैक्सीनेशन की तैयारियों के संबंध में चर्चा कर निर्देशित किया कि वैक्सीनेशन हेतु टीकाकरण केन्द्र पहुंचने वाले आमजनों की सुविधा के लिए सभी जरूरी इंतजाम किए जाएं। शासन की गाईड लाईन अनुसार वैक्सीनेशन उपरांत व्यक्तियों को ऑब्जर्वेशन में रख कर निगरानी रखी जाए। उन्होंने आगामी गेहूँ उपार्जन तैयारियों को लेकर भी सभी अनुविभागीय अधिकारियों से चर्चा कर उपार्जन केन्द्र बनाए जाने तथा अन्य सुविधाओं की व्यवस्था को लेकर निर्देशित किया।

हिन्दुस्थान संवाद

error: Content is protected !!