“मुख्यमंत्री राशन आपके ग्राम योजना” के वाहन किए गए रवाना, मुख्यमंत्री ने वाहनों में उपलब्ध व्यवस्थाओं का लिया जायजा
सिवनी, 16 नवंबर। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने राशन आपके ग्राम योजना में प्रदेश के जनजातीय बहुल 89 विकासखंड के लिए आज प्रथम चरण में 11 वाहन मंत्रालय परिसर से जिलों के लिए रवाना किए। योजना में दिसम्बर माह तक सभी जनजातीय बहुल विकासखंडों के लिए ऐसी व्यवस्था सुनिश्चित की जा रही है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इस योजना के क्रियान्वयन से हमारे जनजातीय भाई-बहनों को बिना कष्ट के उनके ग्राम और घर तक आवश्यक अन्न उपलब्ध हो जाएगा। पूर्व में राशन की दुकान पर जाकर ही राशन लेना होता था। कल प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने इस महत्वपूर्ण योजना का शुभारंभ जनजातीय गौरव दिवस समारोह के अवसर पर किया है। यह योजना जनजातीय वर्ग के कल्याण की योजनाओं में एक नवीन योजना है, जो समय, ऊर्जा और धन की बचत की दृष्टि से भी महत्वपूर्ण है।

मजरों-टोलों तक पहुँचेगा अन्न वाहन

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि योजना में जो युवक दायित्व निभा रहे हैं, वे शासकीय सेवक न होकर जनजातीय वर्ग से ही चयनित किए गए हैं। प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कल डिण्डोरी के श्री अनिल आर्मो, और मण्डला के श्री लक्ष्मी नारायण को जंबूरी मैदान भोपाल में हुए जनजातीय गौरव दिवस कार्यक्रम में वाहनों की चाबी सौंपी थी। योजना में जनजातीय वर्ग के युवाओं को वाहन के लिए शासन द्वारा ऋण गारंटी और मार्जिन मनी देने की व्यवस्था की गई है। वाहन में तौल कांटा और सेल्समैन का प्रबंध होने से उपभोक्ताओं का हित सुनिश्चित होगा। योजना में प्रत्येक ग्राम के लिए दिन निर्धारित कर अनाज वितरण व्यवस्था सुनिश्चित की गई है।

योजना एक नज़र में

मुख्यमंत्री राशन आपके ग्राम योजना में 20 जिलों की 4 हजार उचित मूल्य दुकानों से वितरित होने वाली राशन सामग्री वाहनों द्वारा जनजातीय वर्ग के उपभोक्ताओं तक पहुँचाई जाएगी। इस व्यवस्था में 450 वाहन लगेंगे। योजना से लाभान्वित ग्रामों की संख्या 7 हजार 500 है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आज योजना का क्रियान्वयन प्रारंभ करते हुए जनजातीय बहुल क्षेत्रों के लिए 12 वाहनों को हरि झण्डी दिखाकर रवाना किया। उन्होंने वाहन में मंत्रियों के साथ सवार होकर अन्न वितरण व्यवस्थाओं और वाहन की उपयोगिता का जायजा भी लिया।
खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री श्री बिसाहूलाल सिंह, जनजातीय कार्य और अनुसूचित जाति कल्याण मंत्री सुश्री मीना सिंह, जल संसाधन मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट, ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर, सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री श्री ओमप्रकाश सखलेचा, पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री सुश्री उषा ठाकुर, सहकारिता एवं लोक सेवा प्रबंधन मंत्री श्री अरविंद सिंह भदौरिया, पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण राज्य मंत्री श्री रामखेलावन पटेल, लोक निर्माण राज्य मंत्री श्री सुरेश धाकड़, प्रमुख सचिव खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण श्री फैज अहमद किदवई और अधिकारी उपस्थित थे।

हिन्दुस्थान संवाद

error: Content is protected !!