जनता कर्फ्यू का अक्षरशः पालन के साथ ही किल कोरोना अभियान, वैक्सीनेशन की गति बढाने के दिये निर्देश

सिवनी, 22 मई ।कलेक्टर डॉ राहुल हरिदास फटिंग ने कोरोना संक्रमण रोकथाम को लेकर प्रभावी कार्यवाही सुनिश्चित करने के लिए सेक्टर अधिकारी के रूप में नियुक्त जिला अधिकारियो की बैठक लेकर 31 मई तक जिलें को संक्रमण मुक्त करने की कार्ययोजना के संबंध में विस्तृत जानकारी देते हुए  आवश्यक दिशा निर्देश दिये। उन्होने निर्देशित किया कि प्रत्येक मरीज की कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग की जाये। मरीजों के संपर्क में आये व्यक्तियों को सख्ती से आइसोलेट कर संक्रमण की चैन को तोड़े। उन्होंने कहा कि होम क्वॉरेंटाइन मरीजों की सतत निगरानी सुनिश्चित की जाए, मरीजों एवं उनके परिजनों द्वारा क्वॉरेंटाइन का अक्षरशः पालन सुनिश्चित किया हो। उल्लंघन करने की दशा में सख्त कार्यवाही सुनिश्चित की जाये।कलेक्टर डॉ फटिंग ने कहा कि सभी अधिकारी-कर्मचारी जिलें को कोरोना संक्रमण मुक्त करने की दृढ इच्छा शक्ति एवं सकारात्मक सोच से कार्य करें, क्रमशः अपने ग्राम/ वार्ड को कोरोना संक्रमण मुक्त करने की दिशा में रणनीति बनाकर कार्य करते हुए  जिलें को 31 मई तक संक्रमण मुक्त करें।

उन्होंने सभी सेक्टर अधिकारियों को कोविड वैक्सीनेशन के अधिक अधिक प्रचार-प्रसार के निर्देश दिये। उन्होने कहा की ग्राम की क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप के सदस्यों की सहायता से ग्रामीणों में कोविड वैक्सीनेशन को लेकर फैली भ्रांतियों का निदान किया जाए। ग्रामीणों की सुविधा के लिए अधिक जनसंख्या वाले ग्राम पंचायतों का चिन्हांकन कर टीकाकरण शिविर का आयोजन किया जाए तथा टीकाकरण शिविर के पूर्व आसपास के ग्रामों में भी शिविर का प्रचार प्रसार किया जाए। कलेक्टर डॉ फटिंग ने सेक्टर अधिकारियों को मुख्यमंत्री बाल कल्याण योजना के संबंध में विस्तृत जानकारी देते हुए निर्देशित किया कि ग्राम के निरीक्षण के दौरान मिले ऐसे बच्चों की सूचना अनिवार्यता दे जिनके माता-पिता की मृत्यु 1 मार्च 2021 के उपरांत हुई हो, ताकि उन्हें पात्रता अनुसार आर्थिक सहायता राशि प्रदान करने की कार्यवाही की जा सके। इसी तरह उन्होंने मुख्यमंत्री कोरोना योद्धा योजना के तहत पात्र शासकीय सेवक की मृत्यु कोरोना के कारण होने पर योजना अंतर्गत शीघ्र अति शीघ्र प्रकरण प्रस्तुत करने के निर्देश दिए ताकि संबंधित शासकीय सेवक के परिजनों को लाभान्वित किया जा सके।

हिन्दुस्थान संवाद