सिवनी, 03 दिसंबर। जिले की पुलिस ने डूंडासिवनी थाना क्षेत्र अंतर्गत आने वाले ग्राम कंडीपार के जंगल स्थित कोलासुर नाला राघादेही हार में बीते 28 नवंबर को हुए अंधे हत्याकांड का पर्दाफाश करते हुए नागपुर से एक आरोपित को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। जिसका खुलासा सिवनी पुलिस ने शुक्रवार को किया है।
मीडिया अधिकारी देवेन्द्र जायसवाल ने शुक्रवार की शाम को बताया कि जिले के डूंडासिवनी थाना क्षेत्र अंतर्गत आने वाले ग्राम कंडीपार के जंगल स्थित कोलासुर नाला राघादेही हार में 28 नवंबर 21 को एक अधजला शव मिला था। जिसकी सूचना ग्राम कोटवार ने दी थी। जिस पर पुलिस ने प्रथम दृष्टया हत्या का मामला प्रतीत होने पर भादवि की धारा 302, 201 का प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया।
आगे बताया गया कि इस घटना में पुलिस अधीक्षक कुमार प्रतीक ने अज्ञात आरोपी की पतासाजी के निर्देश देते हुए साथ ही आरोपी को पकड़ने के लिए 10,000 रुपये ईनाम की उद्घोषणा की थी। जिस पर थाना प्रभारी डूंडासिवनी द्वारा थाना स्तर पर टीम गठित कर अज्ञात आरोपी की पतासाजी के प्रयास प्रारंभ किये गए। विवेचना के दौरान घटना स्थल से प्राप्त परिस्थितिजन्य साक्ष्यों को संकलित कर सायबर सेल एवं फिंगर प्रिंट टीम की मदद ली और मृतक महिला के हुलिया की जिले में दर्ज गुम इंसानों से मिलान किया गया जिस पर टीम को ज्ञात हुआ कि 08 नवंबर 21 से थाना किंदरई अंतर्गत चंद्रकली उर्फ रंजीता पुत्री रामदयाल सरयाम गुम है। जिस पर टीम ने गुमशुदा महिला के परिजनों से संपर्क किया और घटना स्थल से मिली चप्पल की पहचान परिजनों से करवाने पर गुमशुदा महिला की बहन ने मृतिका की चप्पलों की पहचान की और बताया कि मृतिका की दोस्ती ग्राम कोहका निवासी राजा उर्फ कुंदन गोस्वामी से थी।
आगे बताया कि पुलिस टीम ने राजा गोस्वामी को नागपुर से पकडा और उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की जहां राजा ने बताया कि नाले के पास मिला अधजला शव गुमशुदा रंजीता सरयाम का है। रंजीता और वह दो-तीन साल पहले नागपुर में एक साथ काम करते थे इस बीच उनका प्रेम प्रसंग चल रहा था। बीते आठ-नौ माह पहले उसनेे दूसरी जगह शादी कर ली। रंजीता भी उससे शादी करना चाहती थी जिसको लेकर मृतिका शादी के लिए बार-बार दबाब बना रही थी जिस पर राजा गोस्वामी ने रंजीता सरयाम को बहला-फुसलाकर जंगल में ले जाकर दुपट्टा से गला घोंटकर हत्या कर नाले में जला दिया। जिस पर पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर जिला न्यायालय के समक्ष पेश किया जहां से आरोपित को जेल भेज दिया गया है।
पुलिस ने इस घटना क्रम में मृतिका का करधन एवं मंगलसूत्र, मोबाईल एवं घटना में उपयोग किया आरोपित का मोबाइल और एक पल्सर गाड़ी जब्त की है।
हिन्दुस्थान संवाद

error: Content is protected !!