ग्वालियर, 22 सितम्बर । सूर्य के उत्तरी गोलार्ध पर विषुवत रेखा पर होने के कारण 23 सितंबर को दिन रात बराबर समय के 12-12 घण्टे के होंगे। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार, पृथ्वी के मौसम परिवर्तन के लिए वर्ष में चार बार 21 मार्च, 21 जून, 23 सितंबर एवं 22 दिसंबर को होने वाली खगोलीय घटना का आम आदमी के जीवन को प्रभावित करती है।

23 सितंबर को होने वाली खगोलीय घटना में सूर्य उत्तरी गोलार्ध से दक्षिणी गोलार्ध में प्रवेश करने के साथ उसकी किरणें तिरछी होने के कारण उत्तरी गोलार्ध वाले क्षेत्रों में मौसम में सर्द भरी राते महसूस होने लगती हैं। रातें धीरे-धीरे बड़ी और दिन धीरे-धीरे छोटे होने लगते हैं। इस दौरान राते बड़ी होते-होते 14 घंटे 24 मिनट तक हो जाती हैं और दिन छोटे होते होते 9 घंटे 36 मिनट के रह जाते हैं। इस लिहाज से सूर्य के साथ सायन तुला राशि में प्रवेश 23 सितंबर को होने से दिन-रात बराबर समय के होंगे। इस दिन 12 घंटे का दिन और 12 घंटे की ही रात होगी।

कहां कितने बजे सूर्योदय और सूर्यास्त होगा: ग्वालियर में सूर्योदय प्रात: 6.12 पर और सूर्यास्त शाम 6.12 पर, इंदौर में सूर्योदय प्रात: 6.19 पर और सूर्यास्त शाम 6.19 पर, भोपाल में सूर्योदय प्रात: 6.13 पर और सूर्यास्त शाम 6.13 पर, दिल्ली में सूर्योदय प्रात: 6.14 पर और सूर्यास्त शाम 6.14 पर, मुंबई में सूर्योदय 6.30 पर और सूर्यास्त शाम 6.30 पर, कोलकाता में सूर्योदय 5.30 पर और सूर्यास्त 5.30 पर होगा।

इनपुट-हिन्दुस्थान समाचार