सिवनी, 30 दिसंबर। जिले के आदेगांव पुलिस ने गुरूवार को ग्राम पहाडी निवासी मृतिका अनारो बाई की मौत के आरोप में उसके पति रामसिंह इडपाचे को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है जिसका खुलासा सिवनी पुलिस ने गुरूवार की शाम को किया है।
मीडिया अधिकारी देवेन्द्र जायसवाल ने गुरूवार की शाम को जानकारी दी कि ग्राम पहाडी निवासी चंदरसिंह इडपाचे ने 14 दिसंबर 21 को आदेगांव थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई कि उसके भाई रामसिंह इडपाचे की पत्नी अनारो बाई ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। जिस पर पुलिस ने मौके पर पहुँचकर शव पंचनामा की कार्यवाही कर धारा 174 जा. फौ. कायम कर जांच में लिया। जांच के दौरान प्राप्त मृतिका के शव की पीएम रिपोर्ट में मृतिका अनारो बाई की हत्या गला दबाकर श्वास रुकने से होना लेख किया गया, जांच पर प्रथम दृष्टया हत्या का अपराध पाए जाने से पुलिस ने भादवि की धारा 302, 201 भादवि का प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया।
आगे बताया गया कि पुलिस टीम द्वारा विवेचना के दौरान प्राप्त साक्ष्यों एवं मृतिका के परिजनों के कथनों से ज्ञात हुआ कि 13 दिसंबर 21 की दरम्यानी रात अनारो बाई तथा उसके पति रामसिंह इडपाचे के बीच मक्का के पैसों की बात को लेकर विवाद हुआ था इसी बात को लेकर पति ने गला दबाकर अपनी पत्नी अनारो बाई की हत्या कर दी। जिस पर पुलिस टीम ने ग्राम पहाड़ी पहुँचकर रामसिंह पुत्र स्व.जुगललाल इड़पाचे को घर के पीछे जंगल में दबिश देकर पकड़ा। पुलिस को पूछताछ में रामसिंह ने अपराध करना स्वीकार किया और हत्या करने के लिए उपयोग की गई रस्सी को पुलिस ने आरोपित के बताये स्थान से बरामद कर गुरूवार न्यायालय के समक्ष पेश किया जहां से न्यायालय के आदेश उपरांत रामसिंह को जेल भेज दिया गया है।
हिन्दुस्थान संवाद

error: Content is protected !!