सिवनी, 11 जनवरी। शासन के निर्देशानुसार विगत 10 जनवरी 2022 से प्रारंभ हुए कोविड वैक्सीनेशन के हेल्थ केयर, फ्रंटलाइन वर्कर्स और 60 वर्ष से अधिक के बीमार मरीजों के बूस्टर डोज (प्रिकॉशन डोज) लगाए जाने की शुरूआत जिले में भी हो चुकी है।

        सबसे अच्छी बात यह है कि पहले और दूसरे डोज की तरह इस बार कोविन ऐप पर नए रजिस्ट्रेशन नहीं करना होगा। हां, अपॉइंटमेंट जरूर लेना होगा। हालांकि जिन सीनियर सिटीजन को बूस्टर डोज लगवाना है, वो सीधे टीकाकरण केंद्र पर जाकर ऐसा कर सकते हैं। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने साफ कर दिया है कि नए रजिस्ट्रेशन की जरूरत नहीं होगी।

        10 जनवरी से हेल्थ केयर वर्कर्स, फ्रंटलाइन वर्कर्स व 60 वर्ष से अधिक आयु के ऐसे लोग जो को-मोर्बिड कंडीशन्स से पीड़ित हैं, को बूस्टर डोज लगाया जाएगा। ऐसे लोग जो 9 माह पहले दूसरा डोज लगवा चुके होंगे, वे सभी बूस्टर डोज लगवा सकता है। जिन लोगों को टीका लगाना है, वे सीधे किसी भी वैक्सीनेशन केंद्र में अपॉइंटमेंट ले सकते हैं या सीधे वहां पहुंचकर टीका लगवा सकते हैं। 60 साल और उससे अधिक आयु के नागरिकों को बूस्टर डोज के लिए डॉक्टर से सर्टिफिकेट प्रस्तुत करने की जरूरत नहीं है। हालांकि, ऐसे व्यक्तियों को तीसरी खुराक लेने से पहले डॉक्टर से सलाह लेने को कहा गया है। कोविड-19 वैक्सीन की एहतियाती खुराक वही वैक्सीन होगी, जो पहले दो खुराक में दी गई थी। जिन लोगों ने पहले कोवैक्सिन लगी है, उन्हें कोवैक्सिन लगाई जाएगी, जिन्हें कोविशील्ड की दो खुराक मिली है, उन्हें कोविशील्ड ही लगाई जाएगी।

  कलेक्टर डॉ राहुल हरिदास फटिंग द्वारा भी मंगलवार 11 जनवरी को जिला चिकित्सालय पहुंचकर वैक्सीनेशन का बूस्टर डोज लगवाया गया है। उन्होंने सभी पात्र व्यक्तियों से अनिवार्य रूप से अपने दोनो डोज के साथ ही साथ बूस्टर डोज लगवाने की अपील की है।  

हिन्दुस्थान संवाद

error: Content is protected !!