आयुष स्नातक काउंसलिंग 2020-21

आयुष संचालनालय ने जारी किये दिशा-निर्देश

भोपाल, 25 अप्रैल।प्रदेश में आयुष स्नातक काउंसलिंग-2020-21 के चौथे चरण (मापअप-II) की कार्यवाही 22 अप्रैल से शुरू की जाकर 27 अप्रैल तक पूरी की जा रही है। काउंसलिंग की कार्यवाही के संबंध में विभाग ने दिशा-निर्देश जारी किये हैं। विभाग ने चौथे चरण में शामिल होने वाले महाविद्यालयों की रिक्त सीटों की स्थिति और पात्र अभ्यर्थियों की सूची एमपी ऑनलाइन के पोर्टल पर प्रदर्शित कर दी है। विभाग ने जानकारी दी है कि काउंसलिंग का यह चरण रियल टाइम रिपोर्टिंग पर आधारित है। अभ्यर्थियों के मेरिट के स्थान की स्थिति क्या है, इसे भी आज एमपी ऑनलाइन के पोर्टल पर प्रदर्शित कर दिया गया है।

संचालनालय द्वारा जानकारी दी गई है कि 26 अप्रैल को प्रात: 10 से शाम 5 बजे तक और 27 अप्रैल को प्रात: 10 से दोपहर 12 बजे तक अभ्यर्थी को महाविद्यालय में संचालनालय आयुष द्वारा नियुक्त पर्यवेक्षक के समक्ष अपनी उपस्थिति दर्ज करानी होगी। नियुक्त पर्यवेक्षक द्वारा 27 अप्रैल को दोपहर एक बजे मेरिट सूची संबंधित महाविद्यालय के नोटिस-बोर्ड पर लगाई जायेगी। इसी दिन दोपहर 2 बजे से मेरिट सूची अनुसार अभ्यर्थियों को प्रवेश दिये जाने की कार्यवाही की जायेगी। दिशा-निर्देश में कहा गया है कि प्रवेश संबंधी समस्त कार्यवाही एमपी ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से की जायेगी। इसके लिये अभ्यर्थी को प्रवेश के लिये स्वयं उपस्थित होना होगा। प्रदेश के सरकारी और स्वशासी आयुष महाविद्यालयों में प्रवेश की कार्यवाही प्रधानाचार्य/मुख्य कार्यपालन अधिकारी द्वारा सुनिश्चित की जायेगी। काउंसलिंग के संबंध में विस्तृत जानकारी विभाग की वेबसाइट www.ayush.mp.gov.in पर भी देखी जा सकती है। विभाग ने काउंसलिंग के संबंध में पर्यवेक्षकों के लिये भी दिशा-निर्देश जारी किये हैं।

हिन्दुस्थान संवाद

follow hindusthan samvad on :