सिवनी, 16 मई। जिले के सिवनी विकासखंड अंतर्गत आने वाले ग्राम बंडोल निवासी 50 वर्षीय प्रोसेन मंडल रविवार को जिला चिकित्सालय में पदस्थ चिकित्सकों एवं स्वास्थ्य कर्मियों की मेहनत, उचित देखभाल एवं चिकित्सकीय सुविधा के साथ अपनी दृढ़ इच्छाशक्ति के बल पर एक माह के संघर्ष के बाद कोरोना को मात देकर अपने घर पूर्णतः स्वस्थ होकर पहुंचे है।


प्रोसेन मंडल ने रविवार को जानकारी दी कोरोना संक्रमित होने के उपरांत विगत 16 अप्रैल से जिला चिकित्सालय में अपना इलाज करवा रहें थे। भर्ती होने के समय उनकी स्वास्थ्य स्थिति गंभीर थीं। इलाज के दौरान भी उनका ऑक्सीजन लेवल 60ः तक पहुँचा। किंतु चिकित्सकों एवं स्वास्थ्य कर्मियों की मेहनत, उचित देखभाल एवं चिकित्सकीय सुविधा के साथ ही अपनी दृढ़ इच्छाशक्ति के बल पर उन्होनें एक माह के संघर्ष के बाद कोरोना पर विजय प्राप्त कर ली। और वह आज अपने घर पूर्णत स्वस्थ होकर पहुंच चुके है।


उन्होनें बताया कि जिला कोरोना संक्रमण से पीडित अनेकों मरीज जिला चिकित्सालय के चिकित्सकों एवं स्वास्थ्य कर्मियों के सकारात्मक प्रयासों से लगातार स्वस्थ हो रहें हैं। इनकी देखभाल में वार्ड इंचार्ज डॉ दीपक अग्निहोत्री,सिस्टर श्रीमती भागीरथा बोपचे, स्टाफ नर्स रेणुका,रश्मि दुबे, स्मृति बंसोड़, किरण हरिनखेड़े, स्वाति ठाकरे, मीना सनोडिया, सुनीता लिल्हारे तथा पप्पू लाहौरी, विक्रम एवं मनोज प्रजापति का सहयोग रहा है।
हिन्दुस्थान संवाद