सिवनी, 18 मई। जिले के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्याम कुमार मरावी ने डॉक्टरो की सलाह और अपने हौसले से कोविड से जंग जीत ली। वह कहते हैं कि चिकित्सकीय परामर्श के साथ सकारात्मक सोच और मजबूत इच्छाशक्ति कोरोना के खिलाफ लड़ने में सहायक होती है।


अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने बताया कि 01 मई की रात्रि में कमजोरी व बुखार आने पर उन्होनें कोरोना टेस्ट करवाया। और 02 मई को उनकी रिपोर्ट आई जिसमें वे कोरोना पॉजिटिव पाये गये। उन्होंने बताया कि जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर उन्हे थोड़ी घबराहट जरूर हुई परंतु वे आशावान थे कि कोरोना से जंग जीत जाएंगे।


जांच की रिपोर्ट आने पर वे जिला चिकित्सालय सिवनी में 02 मई की शाम को भर्ती हुये और 08 मई तक उन्होनें स्वास्थ्य विभाग द्वारा प्रदान की गई सेवाओं का लाभ लिया। जिला अस्पताल के चिकित्सकों से साथ ही वे फेमिली डाॅक्टर डाॅ.देवकुमार के संपर्क में रहे एवं चिकित्सकों के बताए अनुसार दवाइयों का सेवन किया।


इस दौरान स्वास्थ्य में सुधार न होने कारण वह फेमिली डाॅक्टर की सलाह पर भोपाल जाकर हमीदिया हाॅस्टिपल में भर्ती हो गये। जहां पर चिकित्सकों एवं स्वास्थ्य कर्मियों की मेहनत, उचित देखभाल एवं चिकित्सकीय सुविधा के साथ ही अपनी दृढ़ इच्छाशक्ति के बल पर 16 दिन के संघर्ष के बाद कोरोना पर विजय प्राप्त कर ली। और वह अपने घर लौट आये। जहां पर वह नियमित रूप से ध्यान योग की मुद्राए व प्रोटीन युक्त भोजन लेकर स्वास्थ्य लाभ लें रहे हैं।


अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने बताया कि कोरोना से बिल्कुल न घबराएं चिकित्सकीय परामर्श के साथ मन मजबूत रखें। सकारात्मक सोच रखने से आसानी से कोरोना से जंग जीती जा सकती है। कोविड पीड़ित मरीज यदि पहले दिन जाँच करा लेते हैं, दवा शुरू कर देते हैं, होम आइसोलेशन कंट्रोल रूम द्वारा बताये गए सुझावों का पालन करते हैं और सकारात्मक सोच के साथ समय बिताते हैं, तो वे इस बीमारी को बहुत आसानी से पराजित कर सकते हैं। सभी स्वस्थ रहे सरकार के बताऐ नियमों का पालन करे और इस देश को कोरोना मुक्त बनाऐ।


हिन्दुस्थान संवाद