अनूपपुर, 11 अक्टूबर । वन परिक्षेत्र कोतमा के टांकी, मलगा इलाके में विगत 15 दिन पूर्व छत्तीसगढ़ की सीमा से आए हाथियों के समूह द्वारा निरंतर कहर करपाया जा रहा है। जिसके तहत रविवार एवं सोमवार की मध्यरात्रि ग्राम पंचायत फुलकोना के फुलवारी टोला में बसे हूबलाल पाव के कच्चे मकान की बाउंड्री को हाथियों द्वारा तोड़ दिया, जिसकी दीवार गिरने से गाय की दब कर मौत हो गई। वही अन्य चार अन्य पालतू पशु गायब है। इसके साथ ही घर के पीछे बरसाती नाला में हाथियों के समूह द्वारा एक बकरी को रौंदकर मार दिया।

जानकारी अनुसार बीती रात हाथियों का समूह दो भागो में बट कर एक दल ग्राम पंचायत फुलकोना के फुलवारी टोला में निवासी हूबलाल पाव के मकान के बाहर मिट्टी की दीवार को तोड़ दिया, जिससे दीवार गाय के ऊपर गिरी और दब कर मौत हो गई। वही अन्य चार अन्य पालतू पशु गायब है। दूसरे दल ने घर के पीछे बरसाती नाला में एक बकरी को रौंदकर मार दिया। घटना की सूचना पर वन विभाग ने मृत पालतू पशुओं का मुआवजा प्रकरण तैयार किया जा रहा है, वही वन तथा राजस्व विभाग द्वारा संयुक्त सर्वे कर ग्रामीणों एवं कृषको की फसलो के नुकसान का आंकलन कर प्रकरण तैयार कर रहा है। विगत रात हाथियों का समूह महानीम कुंडी, मलगा, टांकी के जंगल से निकलकर फुलवारी टोला मे लगे किसानों के खेतों की धान की फसल चट करने बाद सुबह होने पर महानीम कुंडी के जंगल की ओर चले गए।

इनपुट-हिन्दुस्थान समाचार