सिवनीः तीन सौ लीटर महुआ लाहन बरामद, मामला दर्ज

सिवनी, 25 सितम्बर। जिले के आबकारी विभाग ने शनिवार को घंसौर वृत के धनौरा क्षेत्र में अवैध मदिरा के निर्माण, संग्रहण, परिवहन एवं विक्रय पर कार्यवाही करते हुए तीन सौ लीटर महुआ लाहन और 12 लीटर अवैध शराब बरामद करते हुए 02 आपराधिक प्रकरण दर्ज किये है।


सहायक जिला आबकारी अधिकारी प्रमोद धुर्वे ने बताया कि जिले में अवैध मदिरा के निर्माण, संग्रहण, परिवहन एवं विक्रय के विरूद्ध कार्यवाही सतत रूप से जारी है इसी क्रम में शनिवार को घन्सौर वृत के धनौरा क्षेत्र में दबिश देकर 12 लीटर हाथ भट्टी मदिरा एवं 300 लीटर महुआ लाहन (कीमती 16 हजार 80 रूपये) बरामद कर आबकारी एक्ट की धारा 34(1) के अन्तर्गत 02 आपराधिक प्रकरण दर्ज किये है।


कार्यवाही के दौरान सहायक जिला आबकारी अधिकारी प्रमोद धुर्वे, घन्सौर वृत प्रभारी राजेश सिंघल, आबकारी उपनिरीक्षक रविन्द्र लिल्हारे आबकारी आरक्षक लेखसिंह तेकाम, सुरेन्द्र तिवारी, गोविंद राय, बीरेन्द्र पटेल, संतराम मरावी,सेवकराम भलावी तथा मुकेश अहिरवार, विशाल राव चौबितकर एवं अनिल विश्वकर्मा उपस्थित रहे।
हिन्दुस्थान संवाद

M.P.Tourism: मध्यप्रदेश वन्य-जीव और जैव-विविधता पर्यटन की है संगम स्थली

भोपाल, 25 सितम्बर। प्रकृति दर्शन करने वालों के लिए मध्यप्रदेश अब पहली पसंद बनता जा रहा है। प्रदेश वन्य-जीव पर्यटन और जैव-विविधता पर्यटन के गंठजोड़ से प्रकृति का नया क्षेत्र बन गया है। बाघ, तेंदुआ, घड़ियाल, गिद्ध, चीतल, बारहसिंगा जैसे वन्य जीव जिस वातावरण में रहते है वे जैव-विविधता के कई लुभावने आयाम प्रस्तुत करते हैं।

कान्हा, वांधवगढ़, पेंच, पन्ना और सतपुड़ा जैसे राष्ट्रीय उद्यानों में पर्यटकों की संख्या में बढ़ोत्तरी हो रही है। इनमें पर्यटकों द्वारा अग्रिम बुकिंग कराने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। पिछले दो साल में कोरोना जैसी महामारी के बावजूद कान्हा टाइगर रिजर्व क्षेत्र में लगभग 2 लाख 87 हजार पर्यटकों ने आमद दी और तकरीबन 9.97 करोड़ और पेंच टाइगर रिजर्व में एक लाख 69 हजार पर्यटकों के आने से प्रबंधन को 5 करोड़ 96 लाख रूपये की आय भी हुई। इसी तरह मुरैना जिलें में स्थित ईको सेन्टर देवरी और चम्बल सफारी राजघाट पर 33 हजार पर्यटक का आगमन हुआ। फलस्वरूप प्रबंधन को 2 लाख 20 हजार रूपये की आमदनी हुई। उल्लेखनीय है कि राष्ट्रीय चम्बल अभयारण्य घड़ियाल, कछुए, डॉल्फिन और सौ से ज्यादा प्रकार के प्रवासी/अप्रवासी पक्षियों के लिए जाना जाता है।

टाइगर स्टेट

मध्यप्रदेश न सिर्फ देश का बल्कि विश्व के लिए टाइगर का कैपिटल है। कान्हा और पेंच टाइगर रिजर्व में प्रबंधन को देश में उत्कृष्ट माना गया है। पन्ना टाइगर रिजर्व ने बाघों की आबादी बढ़ाने में पूरे विश्व का ध्यान आकर्षित किया है। यह विश्व के समकालीन वन्य-जीव संरक्षण इतिहास में एक अनूठा उदाहरण है। अब तेन्दुओं की संख्या में भी मध्यप्रदेश भारत में सबसे आगे हैं। बाघों की संख्या में वृद्धि के लिए राज्य शासन और वन विभाग निरंतर प्रयासरत है और सक्रिय प्रबंधन के फलस्वरूप बाघों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है। मध्य भारत का भू-दृश्य बाघों के अस्तित्व के लिए अत्यधिक महत्वपूर्ण है। मध्यप्रदेश के कॉरिडोर से ही उत्तर भारत एवं दक्षिण भारत के बाघ रिजर्व आपस में जुड़े हुए है।

बाघों का रहवास के लिए लगभग 190 गॉवों का विस्थापन कर बड़े भू-भाग को जैविक दबाव से मुक्त कराया गया है। इस समय कान्हा, पेंच और कूनो पालपुर के कोर क्षेत्र में सभी गॉवों को विस्थापित किया जा चुका है। सतपुड़ा टाइगर रिजर्व का 90 प्रतिशत से अधिक कोर क्षेत्र भी जैविक दबाव से मुक्त हो चुका है।

जैव-विविधता पर्यटन

प्रदेश के टाइगर रिजर्व- बॉधवगढ़, पन्ना, पेंच, कान्हा, सतपुड़ा एवं संजय टाइगर रिजर्व के लगभग 5 हजार वर्ग किलोमीटर के वफर जोन में प्रकृति को करीब से देखने का अवसर मिलता है। वनस्पति पर्यटन गतिविधियों के सुनियोजित और नियंत्रित विकास के उद्देश्य से मध्यप्रदेश वन (मनोरंजन एवं वन्यप्राणी अनुभव) नियम 2015 को बनाया गया है। इन प्रयासों से प्रदेश के जंगलों में अवैध कटाई, उत्खनन और चराई पर रोक लग रही है। बफर क्षेत्र के आस-पास रह रहे ग्रामीणों के जीवन स्तर को बढ़ाने के प्रयास भी इसी श्रृंखला में जुड़ गये हैं।

पर्यटकों को कोर क्षेत्र में बाघ दर्शन नहीं होने के कारण, बफर क्षेत्र में बाघ इन्टरप्रिटेशन क्षेत्र का निर्माण किया जा रहा है। इनके माध्यम से सुदूर क्षेत्रों से आये पर्यटक बाघ को अपने प्राकृतिक परिवेश में नजदीक से देख सकते हैं। युवाओं में पर्यावरण के प्रति संवेदनशीलता जागृत करने और उन्हें प्रकृति से जोड़ने के लिए कोशिशें जारी हैं जैसे- पक्षी दर्शन, प्रकृति पथ-गमन, वनस्पति ज्ञानवर्धन, साहसिक क्रीड़ाएँ और नौकायन आदि।

सतपुड़ा की लुभावनी घास

यूनेस्को विश्व धरोहर की संभावित सूची में शामिल सतपुड़ा टाइगर रिजर्व में शाकाहारी वन्य प्राणियों के भोजन के लिए घास की 15 प्रकार की प्रजातियाँ हैं। अलग-अलग प्रकार की घास देखना भी पर्यटकों के लिए एक अनूठा अनुभव होता है। इन घासों के विचित्र से नाम हैं जैसे बड़ी चकौड़ा, छोटी भेंड़, गुरजू, डुरसी भाजी, बासिंग घास, छपकी छिप्पा, मुछैल घास, बडा चिप्पा, गोल चिप्पा, बड़ी भेंड़, भुरभुसी, भेंस कांही, ममेटी, गुंजी, बड़ी उरई, नागरमोथा, आमचारी डछारा, कंसकोरिया, गोगल आदि।

अभूतपूर्व प्राकृतिक सौंदर्य से भरपूर यह देश की प्राचीनतम वन संपदा है जो बड़ी मेहनत से संजोकर रखी गई है। हिमालय के क्षेत्र में पाई जाने वाली वनस्पतियों की 26 प्रजातियाँ और नीलगिरी के वनों में पाई जाने वाली 42 प्रजातियाँ सतपुड़ा वन क्षेत्र में भी भरपूर पाई जाती है। इसलिए विशाल पश्चिमी घाट की तरह इसे उत्तरी घाट का नाम भी दिया गया है।

प्राचीनतम वन सम्पदा

कुछ प्रजातियाँ जैसे कीटभक्षी घटपर्णी, बांस, हिसालू, दारूहल्दी सतपुड़ा और हिमालय दोनों जगह मिलती हैं। इसी तरह पश्चिमी घाट और सतपुड़ा दोनों जगह जो प्रजातियाँ मिलती हैं उनमें लाल चंदन मुख्य है। सिनकोना का पौधा जिससे मलेरिया की दवा कुनैन बनती है यहाँ बड़े संकुल में मिलता है। संरक्षित क्षेत्रों के भीतरी प्रबंधन के मान से सतपुड़ा टाइगर रिजर्व अपने आप में देश का सर्वश्रेष्ठ उदाहरण है। देश के बाघों की संख्या का 17 प्रतिशत और बाघ रहवास का 12 प्रतिशत क्षेत्र सतपुड़ा में ही आता है।

सतपुड़ा नेशनल पार्क एक प्रकार से हिमालय और पश्चिमी घाट के बीच वन्य-जीव की उपस्थिति का सेतु बनाता है। अपने आप में जैव-विविधता की विरासत है। यहाँ ऐसी प्रजातियाँ हैं जो अन्यत्र उपलब्ध नहीं हैं। यह देश का सर्वाधिक समृद्ध जैव-विविधता वाला क्षेत्र है।

हिन्दुस्थान संवाद

भाप्रसे के अधिकारियों की नवीन पद-स्थापना

भोपाल, 24 सितम्बर। राज्य शासन ने भारतीय प्रशासनिक सेवा के दो अधिकारियों की नवीन पदस्थापना की है। सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा जारी आदेश अनुसार अपर आयुक्त, भू-अभिलेख एवं बंदोबस्त श्री अनुराग चौधरी को संचालक स्वास्थ्य सेवाएँ और संयुक्त परिवहन आयुक्त श्री अनूप कुमार सिंह को अपर आयुक्त भू-अभिलेख एवं बंदोबस्त, मध्यप्रदेश ग्वालियर पदस्थ किया गया है। श्री सिंह के पास संयुक्त परिवहन आयुक्त का अतिरिक्त प्रभार रहेगा।

हिन्दुस्थान संवाद

सीसीएफ ने किया सतपुड़ा टाइगर रिजर्व का निरीक्षण

भोपाल, 23 सितम्बर। प्रधान मुख्य वन संरक्षक एवं वन बल प्रमुख (सीसीएफ) श्री आर.के. गुप्ता ने सतपुड़ा टाइगर रिजर्व क्षेत्र के निगरानी शिविरों का निरीक्षण किया।

सीसीएफ श्री गुप्ता ने फ्रन्ट लाइन कर्मचारियों को मेडिकल किट, वाटर फिल्टर, किचन सेट और मच्छरदानी जैसी जरूरी सामग्री का वितरण किया। उन्होंने फ्रन्ट स्टॉफ के शिविरों की सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया।

सीसीएफ श्री गुप्ता ने टाइगर रिजर्व में तैनात वन विभाग के अमले द्वारा वन्य-जीवों के संरक्षण और सुरक्षा के लिये किये जा रहे प्रयासों पर संतोष व्यक्त किया।

हिन्दुस्थान संवाद

Seoni: छिंदवाडा जिले के प्रधान आरक्षक की हत्या कर दफनाया शव , संदेहियों से पूछताछ जारी

सिवनी, 23सितम्बर(हि.स.)। जिले के डूंडासिवनी थाना अंतर्गत आने वाले ग्राम बम्होडी स्थित एक खाली प्लाट में छिंदवाड़ा जिले के चौरई अनुभाग के चांद पुलिस थाने में पदस्थ कार्यवाहक प्रधान आरक्षक विजय (46) बघेल की हत्या कर दफना दिया गया था जिसे गुरूवार को सिवनी और छिंदवाडा पुलिस की संयुक्त टीम ने निकाली है और शव को पोस्टमार्टम भी वही कराया गया है। इस प्रकरण में सिवनी भाजपा के उत्तर मंडल नगर मंत्री राहुल नेमा व अन्य संदेहियो को चौरई पुलिस ने हिरासत में लिया है जिनसे पूछताछ की जा रही है।


मृतक के परिजनों के अनुसार जिले के जैतपुर ग्राम निवासी विजय बघेल की बीते दिनों पूर्व छिंदवाड़ा पुलिस लाइन से चांद थाना जिला छिंदवाडा में कार्यवाहक प्रधान आरक्षक का प्रभार दिया गया था। 21 सितम्बर को पुलिस कर्मी ड्यूटी के बाद घर जाने के लिए निकला था। जिस पर वह घर नही पहुंचा जिस पर परिजनों ने गुमशुदगी की रिपोर्ट थाने में दर्ज कराई थी। इसके बाद चौरई के पास मृतक की बाइक पुलिस ने बरामद की। मामले की जांच के दौरान सिवनी के बारापत्थर क्षेत्र में रहने वाले जिला भाजपा के उत्तर मंडल नगर मंत्री राहुल नेमा का नाम सामने आया है।
गुरूवार की सुबह संदेह के आधार हिरासत में लिये युवक की निशानदेही पर चौरई पुलिस सिवनी जिले के डूंडासिवनी थाना अंतर्गत आने वाले ग्राम बम्होडी पहुंची जहां पर चौरई व डूंडासिवनी पुलिस की संयुक्त टीम ने छह घंटे की मशक्कत के बाद जेसीबी मशीन से चार फिट गहरे गड्डे से खोदकर पुलिस वर्दी में मिले मृतक के शव को निकाला। शव की हालत को देखते हुए मौके पर ही बरघाट से आई डाक्टरों की टीम ने मृतक पुलिस कर्मी का पीएम करने के बाद शव स्वजनों को सौंप दिया।
जिला भाजपा सिवनी के मीडिया प्रभारी श्रीकांत अग्रवाल ने जारी विज्ञप्ति में बताया कि सिवनी उत्तर मंडल नगर अध्यक्ष संजय सोनी की अनुशंसा पर भाजपा जिला अध्यक्ष आलोक दुबे ने राहुल नेमा पर अनुशासनात्मक कार्रवाई करते हुए उन्हें पार्टी की प्राथमिक सदस्यता व दायित्वों से मुक्त कर दिया है।
चौरई एसडीओपी पीएस वालरे ने बताया कि चांद थाना में पदस्थ रहे कार्यवाहक प्रधान आरक्षक विजय बघेल की हत्या के आरोप में संदिग्धों को हिरासत में लिया गया है। उनकी ही निशानदेही पर बम्होड़ी में दफनाए गए मृतक पुलिस कर्मी के शव को निकलवाया गया है। संदिग्धों से पूछताछ के बाद जल्द ही पूरे मामले का पर्दाफाश किया जाएगा। उन्होने बताया कि तकरीबन 12 लाख रुपये की उधारी को लेकर हत्या की गई है।
चौरई थाना प्रभारी शशि विश्वकर्मा ने बताया है कि राहुल नेमा व अन्य संदेहियों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सिवनी श्याम सिंह मरावी ने बताया कि छिंदवाड़ा जिले में पदस्थ पुलिस कर्मचारी की हत्या कर शव को सिवनी के बम्होड़ी क्षेत्र में दफनाने का मामला सामने आया है। जिला पुलिस बल द्वारा प्रकरण में छिंदवाड़ा जिले की पुलिस का सहयोग किया जा रहा है। चौरई पुलिस मामले की जांच कर रही है।
हिन्दुस्थान संवाद

कान्हीवाड़ा पुलिस ने किया अंधे हत्याकांड का पर्दाफाश, चार आरोपित गिरफ्तार

सिवनी, 23सितम्बर। जिले के कान्हीवाडा थाना अंतर्गत आने वाले ग्राम इंदावाडी के खेत और झाडियो के बीच में बीते 18 सितम्बर को मिले एक अज्ञात महिला के मिले शव की गुत्थी कान्हीवाडा पुलिस ने सुलझा ली है और गुरूवार को इस अंधे हत्याकांड का पर्दाफाश करते हुए चार आरोपित को गिरफ्तार कर जिला न्यायालय में पेश करने के बाद जेल भेज दिया है।


पुलिस के मीडिया अधिकारी देवेन्द्र जायसवाल ने गुरूवार की देर शाम को जानकारी दी कि सूचना मिलने कान्हीवाडा पुलिस 18 सितम्बर 21 को ग्राम ग्राम इंदावाडी पहुंची जहां ग्राम के खेत और झाडियो के बीच एक अज्ञात महिला का शव मिला था। जिस पर पुलिस ने मर्ग कायम कर जिला चिकित्सालय में शव का पोस्टमार्टम कराया गया। वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देश पर थाना प्रभारी कान्हीवाड़ा द्वारा थाना स्तर पर पुलिस टीम गठित कर अज्ञात मृतिका की शिनाख्तगी हेतु प्रयास प्रारम्भ किये गये। जिस पर 20 सितम्बर को मृतिका की पहचान कविता(21) पुत्री सुरेन्द्र बरकडे निवासी समतपुरी थाना तिरोडी जिला बालाघाट के रूप में हुई। मृतिका के परिजन को शव सुपुर्द कर प्रथम दृष्टया मर्ग जांच में हत्या का अपराध घटित होना पाए जाने से अज्ञात आरोपियों के विरुध्द भादवि की धारा 302.201 का प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।


विवेचना के दौरान मृतिका के मामा की लडकी साक्षी निवासी ग्राम चोरी पिडकेपार थाना तिरोडी बालाघाट ने बताया कि 17 सितम्बर की रात में सतेन्द्र भलावी निवासी बेलगांव थाना डूंडासिवनी ने जान से मारने की नियत से उसका घोटा लेकिन जैसे तैसे वह बच गयी और सतेन्द्र भलावी दोस्त संतोष कुमरे ने उसके साथ छेड़छाड़ की। सतेन्द्र ने पूर्व में शादी का प्रलोभन देकर उसके साथ शारीरिक संबंध बनाया जिससे उसे लगभग 7-8 माह का गर्भ हैं। जिस पर मृतिका के मामा की लड़की की रिपोर्ट पर धारा 354,307, 376 (2) (एन) भा.द.वि. का अपराध पंजीबध्द कर विवेचना में लिया गया।
बताया गया कि पुलिस को विवेचना के दौरान प्राप्त साक्ष्यों के आधार पर 22 सितम्बर को सत्येन्द्र (22) पुत्र देवीसिंह भलावी निवासी ग्राम बेलगांव (बम्होडी ) थाना डुण्डासिवनी,सोनू उर्फ राजकुमार (25) पुत्र शिवकुमार गोमेश्वर निवासी ग्राम मुण्डरई थाना कान्हीवाड़ा , मुकेश (22) पुत्र प्रसादी कुवैती निवासी ग्राम चुरनाटोला कान्हीवाड़ा ,संतोष (27)पुत्र दादूराम कुमरे निवासी ग्राम मुण्डरई थाना कान्हीवाड़ा को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई जहां आरोपित सतेन्द्र ने बताया कि उसने पहले गला घोंटकर मृतिका के मामा की लड़की की हत्या का प्रयास किया एवं उसे लगा कि वह मर गई है। मृतिका के मामा की लड़की के मरने की जानकारी कविता को हो जाएगी और कविता पुलिस में जाकर ये बता देगी की उसके मामा की लड़की की हत्या हो गई है इस बात को छिपाने के लिए उसने और उसके दोस्त सोनू ने कविता की गला घोंटकर हत्या कर दी।
बताया कि आरोपित सतेन्द्र और सोनू द्वारा मृतिका को चुनरी से गला घोटकर हत्या करने , शादी का प्रलोभन देकर शारीरिक संबंध बनाने , गला घोटकर मारने के बाद मृतिका के सामान छुपाने , आरोपित मुकेश को मृतिका के मोबाइल फोन छुपाने, आरोपित संतोष द्वारा मृतिका के मामा की लडकी के साथ छेडछाड करने के आरोपि में गिरफ्तार किया गया है।


पुलिस टीम ने आरोपितों के कब्जे से घटना में उपयोग की चुनरी जिससे मृतिका का गला दबाकर हत्या की गई थी तथा मोटर साईकिल एंव मृतिका के बैग मोबाईल फोन आदि अन्य सामग्री जो आरोपितों व्दारा छिपाकर रखा गया था जब्त कर आरोपितों को गुरूवार को गिरफ्तार कर जिला न्यायालय में पेश किया है।
हिन्दुस्थान संवाद

Seoni: सरकारी काम में बाधा डालने वाले 13 आरोपित गिरफ्तार

सिवनी, 23सितम्बर। जिले के कुरई थाना अंतर्गत आने वाले ग्राम कुप्पीटोला निवासी 13 आरोपितों को कुरई पुलिस ने सरकारी काम में बाधा डालने के आरोप में गुरूवार को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।


पुलिस के मीडिया अधिकारी देवेन्द्र जायसवाल ने गुरूवार की देर रात्रि को बताया कि जिले के कुरई थाना अंतर्गत ग्राम कुप्पीटोला, सतोषा, तेलिया, रमली, खैरघाट, पोटिया, खम्बा, पाटन, चंद्रपुर, बिसापुर खण्डासा ग्रामों में बरघाट थाना अंतर्गत ग्राम पिण्डरई कलॉ के निवासी श्याम धुर्वे एवं वंश धुर्वे द्वारा पारंपरिक ग्राम सभा बनाकर कार्यकर्ताओं की नियुक्ति कर मीटिंग लेकर सरकारी अधिकारी, कर्मचारी के विरुद्ध भड़का कर गांव में घुसना प्रतिबंधित करना एवं घुसने पर उनके काम में बाधा डालना डरा-धमका कर वापस भेजना, जैसे कृत्य किये जा रहे थे।
इस संस्था के सदस्यों द्वारा 21अगस्त 21 को वनरक्षक कृष्णकुमार तेकाम, खवासा (बफर) पेंच टाईगर रिजर्व सिवनी के शासकीय कार्य में बल पूर्वक बाधा डालते हुये मारपीट कर चोट पहुँचायी गई और वन विभाग द्वारा बनाये गये वॉच टावर (झोपड़ी) को तोड़-फोड़ कर दिये थे जिसकी शिकायत पर भादवि की धारा 186, 353, 332, 294, 506, 34 का प्रकरण पंजीबद्ध किया गया है।
संस्था के सदस्यों द्वारा 26अगस्त 21 हरपाल सिंह परिहार के ढाबे में जाकर अश्लील गालीयाँ देकर मारपीट कर जान से मारने की धमकी दी गई जिस पर भादवि की धारा 294323, 506, 34 का का प्रकरण पंजीबद्ध किया गया है।
बताया गया कि 04 सितम्बर 21 को ग्राम खवासा में संस्था के सदस्यों द्वारा विधि द्वारा स्थापित सरकार के प्रति घृणा, द्वेष व अवमान पैदा करने हेतु आदिवासी विकास वन चेतना भवन खवासा में बिना अनुमति के जबरन प्रवेश कर मीटिंग ली गई और सरकार विरोधी पर्चे भी बाँटे गए। जिस पर वन विभाग की शिकायत पर भादवि की धारा 186188, 448, 124ए, 502 (आईआई). 120बी का अपराध पंजीबद्ध किया गया है।
थाना प्रभारी कुरई द्वारा उक्त प्रकरण के आरोपितों की गिरफ्तारी हेतु टीम का गठन कर गुरूवार को ग्राम कुप्पीटोला में दबिश देकर इन अपराधों में संलिप्त 13 आरोपितों क्रमशः गणेश पुत्र रामकुमार उईके, केदार पुत्र छतरसिंह परते,रमन पुत्र हंसलाल कुमरे , शरद पुत्र पंछीलाल करवेति , जानकी बाई पुत्री इंदरलाल उईके, सैयवंती बाई पुत्री ईश्वर धुर्वे , कलावंती पुत्री रमन कुमरे, संगीता पुत्री शरद करवेति ,रंजीत उर्फ रोहित पुत्र ललित धुर्वे , राहुल पुत्र गरीबचन्द इनवाती ,अजय पुत्र प्रेमलाल धुर्वे, संदीप पुत्र ललित धुर्वे सभी निवासी ग्राम कुप्पीटोला, थाना कुरई, सिवनी और तीरथ सिंह कुशराम निवासी पाड़ायेर थाना बरघाट, सिवनी को गिरफ्तार कर गुरूवार को जिला न्यायालय सिवनी में पेश किया गया जहाँ से उन्हें जेल भेज दिया गया है।
हिन्दुस्थान संवाद

विशेष भर्ती अभियान का आयोजन 24 सितंबर को

सिवनी, 23 सितम्बर। प्राचार्य शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय सिवनी से प्राप्त जानकारी के अनुसार 24 सितंबर 21 को नगर पालिका मानस भवन में आयोजित विशेष भर्ती अभियान में बेरोजगार युवक-युवतियों को निजी क्षेत्र में रोजगार के अवसर उपलब्ध करायें जायेंगे। इस आयोजन में कॅरियर सर्विस के लिए 20 पद, अनुसूईया सेक्यूरिटी के लिए 50 पद एवं इनोवाटिव शाल्यूशन के लिए 25 पदों के लिए चयन किया जायेगा।

        शासकीय स्नात्कोत्तर महाविद्यालय के प्राचार्य ने महाविद्यालय प्रशासन सभी बेरोजगार युवक-युवती एवं विद्यार्थियों से अधिक से अधिक संख्या में इस विशेष भर्ती अभियान में पहुँचकर रोजगार प्राप्ति का लाभ उठाने का आग्रह किया है।   

हिन्दुस्थान संवाद