यूक्रेन से 6200 भारतीय नागरिक और छात्र स्वदेश लौटेः विदेश मंत्रालय

नई दिल्ली, 03 मार्च (हि.स.)। यूक्रेन में चल रहे युद्ध के बीच गुरुवार तक 6,200 भारतीय नागरिक और छात्र विशेष विमानों से स्वदेश लाये गये हैं।विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने यहां आयोजित संवाददाता सम्मेलन में यह जानकारी देते हुए बताया कि अब तक 6,200 भारतीय विशेष विमानों से यूक्रेन से लाए गये।

फाइल फोटो 

उन्होंने बताया कि आपरेशन गंगा के तहत वायुसेना के सी-17 की तीन उड़ानें हैं। इनके साथ ही एयर इंडिया, इंडिको, स्पाइस जेट, गो एयर और गो फर्स्ट के भी विमान यूक्रेन से भारतीय नागरिकों को बाहर निकालने में जुटे हैं। उन्होंने कहा कि उड़ानों की संख्या भारतीयों की उस बड़ी तादाद को दर्शाती है, जो यूक्रेन से पार कर गए हैं और अब पड़ोसी देशों में हैं। हम इन सभी भारतीय नागरिकों को जल्द से जल्द भारत वापस लाने के प्रयास कर रहे हैं।प्रवक्ता ने आगे कहा कि भारत सरकार और उड़ानें शेड्यूल कर रही है और अगले दो तीन दिनों में बड़ी संख्या में भारतीय वापस आएंगे। उन्होंने भारतीय नागरिकों की मेज़बानी करने और उन्हें निकालने में सहायता प्रदान करने के लिए यूक्रेन की सरकार और पड़ोसी देशों की सराहना की।बागची ने कहा कि शुरुआत में 20,000 भारतीय नागरिकों का पंजीकरण किया गया था लेकिन कई ऐसे भी थे, जिन्होंने पंजीकरण नहीं कराया था। हमारा अनुमान है कि कुछ सौ नागरिक अभी भी खार्किव में रह रहे हैं। हमारी प्राथमिकता छात्रों को सुरक्षित रूप से बाहर ले जाना है। उन्होंने कहा कि ज़्यादातर भारतीय नागरिकों ने खार्किव छोड़ दिया है।

इनपुट- हिन्दुस्थान समाचार/अजीत पाठक

follow hindusthan samvad on :
error: Content is protected !!