सीईओ जिला पंचायत ने प्रगतिरत विकास कार्यों की समीक्षा
सिवनी, 19 फरवरी। जिला मुख्यालय से लगे ग्राम बीझावाडा स्थित जिला पंचायत कार्यालय में मुख्य कार्यपालन अधिकारी पार्थ जैसवाल ने मनेरगा व प्रधानमंत्री आवास योजना की समीक्षा की इस दौरान उन्होनें कम प्रगति वाली 04 ग्राम पंचायतों के सचिव व रोजगार सहायक के वेतन रोकने के निर्देश दिये है।
अधिकारिक जानकारी के अनुसार गुरूवार को मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत पार्थ जैसवाल द्वारा जिला पंचायत के सभाकक्ष में मनरेगा एवं प्रधानमंत्री आवास योजना की विस्तृत समीक्षा की गई। जिसमें सभी मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत,सहायक यंत्री, एपीओ सहायक लेखाधिकारी एवं ब्लाक समन्वयक प्रधानमंत्री आवास उपस्थित रहे। मुख्य कार्यपालन अधिकारी द्वारा मनरेगा योजना अंतर्गत प्रगतिरत विकास कार्य , भुगतान कार्यवाही, संलग्न श्रमिकों की जनपदवार विस्तृत समीक्षा की कर शून्य प्रगति वाली ग्राम पंचायतों के ग्राम रोजगार सहायक को अवैतनिक करने एवं सचिवों पर निलंबन की कार्यवाही के निर्देश दिये गये।


बताया गया कि सीईओ ने बैठक में 100 से कम लेबर वाली पंचायतों में विशेष रूप से ध्यान देकर कार्य कराने, पूर्ण कार्यो की सीसी जारी करने एवं सहायक यंत्रियों को प्रतिदिन जारी की गई सीसी की जानकारी से अवगत कराने हेतु निर्देशित किया गया। वहीं वर्ष 2018-19 के अपूर्ण कार्यो को भी शीघ्र पूर्ण कराकर सीसी जारी करने के निर्देश दिये गये। कम प्रगति वाली ग्राम पंचायत कमकासुर, कान्हीवाड़ा, सिल्लोर एवं लालपुर के सचिव एवं ग्राम रोजगार सहायक के वेतन रोकने के निर्देश दिये गये। प्रधानमंत्री आवास योजना की समीक्षा में जिन हितग्राहियों के द्वारा आवास की राशि निकाल ली गई है एवं कार्य नहीं कराया गया है ऐसे प्रकरणों का निरीक्षण कर कार्य पूर्ण कराने हेतु आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये। प्रधानमंत्री आवास योजना के ब्लाक समन्वयको को प्रतिदिन आवास की अद्यतन स्थिति से अवगत कराने के निर्देश दिये गये। साथ ही पूर्व वर्षा के अपूर्ण आवासो को शीघ्र पूर्ण कराने हेतु निर्देशित किया गया ।
हिन्दुस्थान संवाद

error: Content is protected !!