सिवनी, 13 फरवरी । जिले के म.प्र.वन कर्मचारी संघ ने शनिवार को माफियाओं व्दारा वन कर्मचारियों, अधिकारियों पर प्राणघातक हमला करने ,शासकीय कार्य में बाधा डालने, वाहनों आदि को बलपूर्वक छुडाने एवं वन कर्मचारियों की हत्या करने की घटनाओं की ओर शासन का ध्यान आकर्षित करने के लिये उत्तर सिवनी एवं सिवनी उत्पा्दन वनमण्डल के सामने सामूहिक उपवास रखकर धरना प्रदर्शन किया गया।


म.प्र. वन कर्मचारी संघ जिला शाखा सिवनी के जिलाअध्यक्ष नरेन्द्र कुमार ठाकुर ने शनिवार की शाम को जानकारी देते हुए बताया कि शनिवार को वन माफियाओं के व्दारा वन अधिकारी, कर्मचारियों पर हो रहे हमले के विरोध में सिवनी उत्पादन वनमंडल के सामने एक दिवसीय सामूहिक उपवास रखकर धरना प्रदर्शन किया गया है।
नरेन्द्र ठाकुर ने बताया कि मध्यप्रदेश में वन माफिया के व्दारा वन अधिकारियों, कर्मचारियों पर आये दिन प्राणघातक हमले किये जा रहे है जिसके कारण वन अधिकारी, कर्मचारी वन एवं वन्यप्रानियों की सुरक्षा करते हुये अपने प्राणों की आहुति दे रहे हैं। 04 फरवरी 21 को देवास वनमंडल के अंतर्गत स्व० मदनलाल वर्मा, वनरक्षक को अपराधियों द्वारा गोली मारकर वनक्षेत्र में हत्या भी की जा चुकी है। म.प्र. शासन वन विभाग व्दारा स्व. वर्मा को वनशहीद का दर्जा दिये जाने हेतु कार्यवाही भी की जा रही है। माफिया व्दारा कारित की जा रही घटनाओं के विरोध में म.प्र. वन कर्मचारी संघ भोपाल व्दारा वनमंत्री 03 फरवरी 21 को ज्ञापन सौंपा गया है। सिवनी जिले में भी विगत दिनों घंसौर एवं धूमा परिक्षेत्रों में भी वन कर्मचारियों पर हमले की घटना घटित हो चुकी है।
आगे बताया गया कि माफिया द्वारा वन कर्मचारियो, अधिकारियों पर किये जा रहे प्राणघातक हमलों, अतिक्रमण हटाने के दौरान किये जा रहे है हमलों एवं गोली मार देने की घटनाओं से वन एवं वन्यप्राणियों की सुरक्षा में कार्यरत कर्मचारियों में भय का माहौल व्याप्त है। म.प्र. वन कर्मचारी संघ भोपाल के निर्देशों के आधार पर वन माफिया के विरुद्ध शनिवार को वन कर्मचारियों दारा एक दिवसीय उपवास रखकर विरोध प्रदर्शन किया गया है। धरना प्रदर्शन में पहुंचे मुख्य वनसंरक्षक वन वृत सिवनी आर.एस.कोरी द्वारा वन शहीद मदनलाल वर्मा के परिवार जनो को आर्थिक सहायता के लिए 05 हजार रूपये का चेक वन कर्मचारी संघ को दिया गया है। वहीं उत्तर सामान्य वनमंडल के वनमंडलाधिकारी प्रदीप मिश्रा द्वारा भी 06 हजार रूपये की आर्थिक सहायता राशि दी गई हैै।


सामुहिक धरना व उपवास कार्यक्रम में सभी वन अधिकारियों, कर्मचारियों की उपस्थिति रही।
हिन्दुस्थान संवाद

error: Content is protected !!