सिवनी, 23 फरवरी । जिले के कलेक्टर डाॅ.राहुल हरिदास फांटिग ने मंगलवार को महिला बाल विकास विभाग की विभागीय समीक्षा बैठक ली और उन्होनें सभी अधिकारियों को लाडली लक्ष्मी योजना की पात्र शत प्रतिशत बालिकाओं को लाभान्वित किए जाने के निर्देश दिए। इस दौरान कलेक्टर ने विकासखंड पर निर्माणाधीन आंगनवाड़ी केंद्रों की भी समीक्षा की ।
अधिकारिक जानकारी अनुसार मंगलवार को आयोजित महिला एवं बाल विकास विभाग की विभागीय समीक्षा में सिवनी कलेक्टर ने प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना, लाडली लक्ष्मी योजना, चिन्हांकित कुपोषित बच्चों के विकासखंडवार स्थिति तथा वर्तमान में एनआरसी में बच्चों की जानकारी प्राप्त कर आवश्यक दिशा निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए।


उन्होंने सभी परियोजना अधिकारियों को प्राथमिकता के आधार पर कुपोषित बच्चों के सर्वेक्षण करते हुए उन्हें एनआरसी में भर्ती करवाने हेतु निर्देशित किया साथ ही एनआरसी से डिस्चार्ज होने के उपरांत भी ऐसे बच्चों की सतत मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए गए।
कलेक्टर सिवनी ने प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना की समीक्षा के दौरान कम प्रगति वाली परियोजना धूमा तथा घंसौर पर नाराजगी व्यक्त करते हुए सम्बन्धित परियोजना अधिकारी पर कार्यवाही के निर्देश दिए।

इस दौरान जिला पंचायत सीईओ पार्थ जैसवाल , जिला कार्यक्रम अधिकारी श्रीमती लक्ष्मी धुर्वे तथा सभी परियोजनाओं के परियोजना अधिकारियों की उपस्थिति रही।

हिन्दुस्थान संवाद

error: Content is protected !!