सिवनी, 08 फरवरी। प्रदेश-व्यापी गिद्ध गणना का अंतिम चरण आज दिनांक 7 फरवरी को संपन्न हुआ . प्रदेश के सभी 16 वृत्त और 35 संरक्षित क्षेत्रों में गिद्ध गणना कार्य वन विभाग के अधिकारी-कर्मचारी, बी एन एच एस, डब्ल्यू.डब्ल्यू.एफ., डब्ल्यू.आईं.आईं के प्रतिभागियों के अलावा स्वयं-सेवक और फोटोग्राफर द्वारा संयुक्त रूप से किया गया .गणना के बाद डाटा संकलन का कार्य वन विहार राष्ट्रीय उद्यान, भोपाल के द्वारा किया गया ।

May be an image of bird and nature

इस वर्ष तकनीकों का उपयोग करते हुए पूरे प्रदेश भर के आंकड़ों को एक केंद्रीय नियंत्रण कक्ष में एकत्र किया गया ।

May be an image of bird and nature

प्रारंभिक जानकारी के अनुसार इस वर्ष प्रदेश में कुल 9411 गिद्धों के होने का अनुमान है .वर्ष 2019 में यह संख्या 8397 पायी गयी थी ।

May be an image of bird and nature

इस प्रकार विगत 2 वर्षों में प्रदेश में 1014 गिद्धों की संख्या वृद्धि का अनुमान है।

May be an image of bird and nature

मुख्य वन्य प्राणी अभीरक्षक आलोक कुमार ने बताया कि प्रदेश के समस्त गणना क्षेत्रों के आंकड़ों को संकलन कर अंतिम रिपोर्ट इसी माह जारी कर दी जाएगी ।

हिन्दुस्थान संवाद

error: Content is protected !!